डीडीसी। पृथ्वी पट जीवन और ये जीवन इसलिए है, क्योंकि यहां ऑक्सीजन है। अगर ऑक्सीजन न होती तो आज आप ये खबर भी न पढ़ रहे होते।
जीवन के लिए ऑक्सीजन की मौजूदगी एक अहम कारक है। पृथ्वी पर ज्यादातर जीवन ऑक्सीजन पर ही निर्भर है। पृथ्वी के बाहर जब वैज्ञानिक जीवन के संकेतों की तलाश करते हैं तो वे ऑक्सीजन के संकेत भी ढूंढते हैं, लेकिन आज से साढ़े चार अरब साल पहले पृथ्वी पर ऑक्सीजन थी ही नहीं। पृथ्वी पर ऑक्सीजन कैसे आई यह रहस्य आज भी शोध का विषय है। ताजा शोध ने इस पर रोशनी डालने की कोशिश की है। कई दशकों से वैज्ञानिक यह जानने की कोशिश कर रहे हैं कि पृथ्वी पर ऑक्सीजन पहली बार कैसे और क्यों हवा में आई थी। वे लंबे समय से यह मान रहेथे कि जीवन से ही पैदा होने वाली ऑक्सीजन ही धीरे धीरे वायुमंडल में जमा होती गई। शिकागो यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर निकोलस डौफाज ने कहा, “हम अब भी निश्चित नहीं हैं कि यह कैसे हुआ लेकिन इस दिशा में थोड़ी सी भी जानकारी बहुत अहम होगी।” शिकागो यूनिवर्सिटी के स्नातक छात्र एंडी हर्ड, डोफाज और उनके साथियों ने पृथ्वी के वायुमंडल में महासागरों के लोहे की भूमिका की नई जानकारी की खुलासा किया। इस शोध ने पृथ्वी के इतिहास के बारे में और ज्यादा जानकारी दी है। इस अध्ययन से दूसरे तारों के सिस्टम के जीवन के अनुकूल संभावित ग्रहों की खोज में मददगार हो सकता है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here