नई दिल्ली। नासा ने एक ऐसे क्षुद्रग्रह को खोज निकाला है जो पूरी पृथ्वी का मालामाल कर सकती है। ’16 साइके’, नाम का यह ग्रह सूर्य की परिक्रमा कर रहा है। पता लगा है कि इस ग्रह पर हमारे ग्रह पर पूरी अर्थव्यवस्था की तुलना में $ 10,000 क्वाड्रिलियन ($ 10,000,000,000,000,000,000) मूल्य का लोहा हो सकता है।
सैकड़ों और हजारों क्षुद्रग्रह अंतरिक्ष में तैर रहे हैं, लेकिन एक अद्वितीय धातु क्षुद्रग्रह है, जो 2019 में वैश्विक अर्थव्यवस्था का दस हजार गुना तक प्राप्त करने के लिए पर्याप्त है। इसकी कीमत $ 10,000 क्वाड्रिलियन ($ 10,000,000,000,000,000,000,000 डॉलर) है।
नेशनल एरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) हबल स्पेस टेलीस्कोप ने एक धातु से भरपूर क्षुद्रग्रह ’16 साइके’ की खोज की है जो सूर्य की परिक्रमा कर रहा है, जो मंगल और बृहस्पति के बीच मुख्य क्षुद्रग्रह बेल्ट में है। यह पृथ्वी से लगभग 230 मिलियन मील की दूरी पर स्थित है और 226 किलोमीटर के पार पश्चिम वर्जीनिया के आकार के बारे में है। यह खोज 26 अक्टूबर को द प्लैनेटरी साइंस जर्नल में प्रकाशित हुई थी। रिपोर्ट में कहा गया कि शोधकर्ताओं ने हबल टेलीस्कोप द्वारा 2017 में किए गए दो अवलोकनों के दौरान एकत्रित पराबैंगनी स्पेक्ट्रम डेटा का उपयोग किया। अध्ययन के लेखकों ने कहा कि मानस की सतह शुद्ध लोहा हो सकती है। उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि क्षुद्रग्रह ज्यादातर लोहे और निकल से बना हो सकता है। हालाँकि मानस की सटीक रचना अभी भी स्पष्ट नहीं है। सीएनएन की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि इसके आकार के लोहे का एक टुकड़ा लगभग $ 10,000 क्वाड्रिलियन का हो सकता है। जो कि हमारे ग्रह पर पूरी अर्थव्यवस्था से भी अधिक है। नासा साइके के मिशन के प्रमुख वैज्ञानिक लिंडी एल्किंस-टैंटन ने अनुमान लगाया है कि स्टेरॉयड पर मौजूद लोहे की मात्रा $ 10,000 क्वाड्रिलियन से अधिक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here