– त्रिवेंद्र सरकार में 114 भाजपा नेताओं को सौंपा गया था दायित्व

देहरादून, डीडीसी। त्रिवेंद्र सिंह रावत की कुर्सी छिन चुकी है और अब बारी है त्रिवेंद्र के चहेतों की। ये वो चहेते हैं जिन्हें त्रिवेंद्र ने अपनी सरकार में दायित्व और कुर्सी सौंप का पावरफुल बनाया। ऐसे 114 भाजपा नेता हैं जिन्हें दायित्वधारी बनाया गया। त्रिवेंद्र के बाद अब इनकी कुर्सी खतरे में है। आलाकमान से CM तीरथ सिंह रावत को कुर्सी खाली कराने की खुली छूट मिल चुकी है। जल्द ही उत्तराखंड सरकार एक्शन में नजर आ सकती है।

दुष्यंत लेकर आए थे आलाकमान का फरमान
सूत्रों के हवाले से खबर है कि बीती 26 मार्च को उत्तराखंड प्रभारी दुष्यंत कुमार गौतम के दून के दो दिवसीय दौरे पर थे। उस वक्त से लेकर अभी तक दौरे की वजहों पर कयास लगाए जा रहे थे। अब माना जा रहा है कि दौरे की वजह दायित्वधारी ही हैं। आलाकमान का संदेश दुष्यंत के जरिये तीरथ सरकार को मिल चुका है। अब इस मसले में जल्द ही तीरथ सरकार की बैठक होगी। जिसमें 114 दायित्वधारियों पर फैसला लिया जाएगा। यानी इनमें से किसकी विदाई होगी और किसकी कुर्सी बचेगी।

नए नामों पर मंथन शुरू
पता लग रहा है कि जल्द ही नए दायित्वधारी सरकार और संगठन को मजबूत करते दिखाई देंगे, लेकिन इसके लिए अग्निपरीक्षा होगी। बताया जा रहा है कि जो सरकार और संगठन के पैमाने पर खरा उतरेगा, उसी को दायित्व मिलेगा। किसको बाहर जाना है और किस नए नाम को मौका मिलने वाला है, इस पर मंथन शुरू हो गया है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here