– 32वें सड़क सुरक्षा सप्ताह पर कानून वालों ने तोड़ा कानून

(सर्वेश तिवारी) डीडीसी, हल्द्वानी। ढलती शाम की एक तश्वीर ने खाकी के रौब को सरेआम कर दिया। आज पूरे दिन यही खाकी सिर पर हेलमेट और हाथ में नियमों की तख्तियां लेकर जनता को यातायात नियमों का पाठ पढ़ा रही थी। लेकिन शाम ढलने-ढलते खाकी का ये ज्ञान खाकी के मस्तिष्क से ही ढल गया। नियमों का ज्ञान रखने वाले इन वर्दीधारियों में से कुछ ने पुलिस की सारी मेहनत पर पानी फेर दिया। ऐसा नही है कि महकमे में सारे ऐसे हैं, लेकिन चंद लोग ही जनता को महकमे पर अंगुली उठाने का मौका देते है।

मुखानी चौराहे पर तोड़ा महिला ने नियम
हम जेल रोड चौराहे से मुखानी चौराहे की ओर बढ़ रहे थे। मुखानी चौराहे से कुछ पहले V Mart के सामने स्कूटी सवार तीन वर्दीधारी महिलाओं ने तेजी से ओवरटेक किया। एक स्कूटी पर 2 महिलाएं सवार थीं। इनमें से चालक के सिर पट हेलमेट था, लेकिन पीछे बैठी वर्दीधारी के सिर पर हेलमेट के बजाय महकमे की टोपी थी। एक स्कूटी और थी और उस पर भी एक महिला वर्दीधारी थी और वो पूरे नियमों के साथ उनके पीछे चल रही थी।

तो साथियों का धर्म क्या कहता था
धर्म तो यही था कि जब एक नए सिर पर हेलमेट न लगाया हो तो दूसरे साथी को उसे टोकना चाहिए था। बल्कि चाहिए तो ये था कि बिना हेलमेट बैठाया ही नही जाता। खैर ऐसा कुछ नही हुआ। न सिर्फ बिना हेलमेट सफर हुआ बल्कि इसके जरिये जनता तक गलत संदेश पहुंचाया गया। यातयात नियमो को ताक पर रख कर चल रहे इन स्कूटी सवारों का हौसला सिर्फ इसलिए बुलंद था क्योंकि इनके बदन पर वर्दी थी। तभी ये मुखानी चौराहा पार गए, वरना आमजन बिना हेलमेट गलियां तलाशते नजर आते हैं।

और ये संदेश लेकर दिन भर घूमे शहर
32वें सड़क सुरक्षा सप्ताह पर हर बार की तरह इस साल भी पुलिस ने रैली निकाली। हाथ में तख्तियां और इन तख्तियों पर सुंदर संदेश लिखे थे। मसलन ‘सड़क सुरक्षा का पूर्ण ज्ञान, देता है हमको जीवन दान’, ‘सड़क सुरक्षा के लिए अपनाओ, यातायात नियमों को इनका पालन करके यात्रा को सुरक्षित बनाओ’, ‘वाहन को तेज न चलाओ, मंजिल को आखिरी मत बनाओ’, ‘दुर्घटनाओं पर लगेगा ताला, जब पहनोगे सुरक्षा माला’ जैसे स्लोगन थे और इन्हें अपना लिया जाए तो तमाम जिंदगियां बचाई जा सकती हैं।

नई SSP ने तो शान से बिदा किया था
प्रीति प्रियदर्शिनी नैनीताल जिले की नई वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हैं। एसएसपी ने कोतवाली हल्द्वानी में 32 वां सड़क सुरक्षा माह का शुभारम्भ किया और हरी झंडी दिखा कर यातायात हल्द्वानी, सीपीयू हल्द्वानी, थाना, चौकी, महिला चीता पुलिस की बाइकों को रवाना किया गया। इन्होंने शहर की यातायात व्यवस्था बनाये रखने के लिए जनता से अपील की। जाहिर है इससे एसएसपी साहिब खुश होंगी, लेकिन शाम की तश्वीर देखने के बाद वह नियम तोड़ने वालों से क्रोधित भी होंगी।

सड़क पर चलें और इनका पालन करें
1- यातायात के नियमों, संकेतों का पालन करें एवं अपने को व अपनों को सुरक्षित रखें।
2- दोपहिया वाहन चलाते हुये हेलमेट स्टैडर्ड मानक का ही प्रयोग करें।
3- दोपहिया वाहन पर दोनों सवार हेलमेट का प्रयोग करें।
4- वाहन चलाते समय मोबाईल का प्रयोग न करें।
5- खतरनाक एवं तेज गति से वाहन न चलायें। तेज आवाज करने वाला साइेन्सर, प्रेशर हाॅर्न न लगायें।
6- चौपहिया वाहन चलाते समय हमेशा सीट बेल्ट का प्रयोग करें।
7- शराब पीकर वाहन न चलायें।
8- वाहन में क्षमता से अधिक सवारी न बैठायें।
9- वाहन को निर्धारित स्थान पर ही पार्क करें।
10- नाबलिक बच्चों को वाहन न देकर सुरक्षित रखें।
11- अपने वाहन के शीशों पर ब्लैक फिल्म का प्रयोग न करें।
12- डीएल, आरसी, बिना नम्बर प्लेट के वाहन न चलायें।
13- वाहन को मोड़ते समय इन्डीकेटर का प्रयोग करें।
14- रात्रि के समय लो-बीम में वाहन चलाये तथा एलईडी लाइट का प्रयोग न करें।
15- सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति को अस्पताल पहुंचाने में मदद करें। पुलिस द्वारा आपको सम्मानित किया जायेगा।
16- ज्यादातर सड़क दुर्घटनाएं जल्दबाजी, लापरवाही एवं वाहन की गति तेज होने की वजह से होती है।
17- आपके थोड़ा सा धैर्य, चिंतन व मानवीय सहयोग से किसी का अमूल्य जीवन संकट में आने से बच सकता है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here