– अयोध्या में बैंक अफसर की सुसाइड से पुलिस महकमे में खलबली

अयोध्या, डीडीसी। शनिवार देर रात पीएनबी अफसर रैंक की युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या की ली और इसकी वजह IPS अफसर आशीष समेत तीन लोगों को बताया। पुलिस को कमरे से सुसाइड नोट मिला है। इसमें IPS अधिकारी, एक पुलिस कर्मी सहित तीन पर प्रताड़ित करने की बात कही गई है।

सुसाइड नोट को पुलिस ने किया सुरक्षित
लखनऊ के राजाजीपुरम की रहने वाली श्रद्धा अयोध्या शहर के खवासपुरा मोहल्ले में किराए का मकान लेकर रहती थी। सुसाइड नोट में जिसमें एक IPS अधिकारी सहित 3 लोगों को आत्महत्या का जिम्मेदार बताया है। पुलिस ने श्रद्धा के कमरे से मिले सुसाइड नोट को कब्जे में ले लिया है।

खिड़की तोड़ कर निकाली गई लाश
राजाजीपुरम निवासी राजकुमार गुप्ता की पुत्री श्रद्धा गुप्ता (30) पंजाब नेशनल बैंक क्षेत्रीय कार्यालय अयोध्या में स्केल वन अफसर थीं। खिड़की तोड़कर उसे लाश का बाहर निकाला गया। परिजन मामले में सीएम से न्याय की गुहार लगाई है।

जवाब न मिलने पर मकान मालिक को सूचना दी
श्रद्धा के परिवार से जुड़े दीप ने बताया कि शुक्रवार की शाम से ही घरवाले श्रद्धा को फोन कर रहे थे, लेकिन श्रद्धा की ओर से फोन रिसीव नहीं हुआ। शनिवार सुबह भी फोन किया गया तो कोई जवाब न मिलने पर मकान मालिक को सूचना दी गई। मकान मालिक ने श्रद्धा के कमरे में लगी खिड़की से देखा तो अंदर उसका शव फंदे से लटक रहा था।

हेड क्लर्क से वन रैंक अफसर तक पहुंची
एसएसपी शैलेश पांडेय, एसपी सिटी विजयपाल सिंह, एएसपी पलाश बंसल भी मौके पर पहुंचे और खिड़की तोड़कर श्रद्धा के कमरे में दखिल हुई पुलिस ने शव को कब्जे में लिया। श्रद्धा 2015 से बैंक में कार्यरत थी। बतौर हेड क्लर्क उसने अपनी नौकरी की शुरुआत की थी और विभागीय परीक्षाओं को उत्तीर्ण कर वह अधिकारी के पद तक पहुंची थीं। कार्यक्रम में शामिल हुई थी। शुक्रवार को श्रद्धा ड्यूटी पर भी नहीं आई थी।

आई एम सॉरी फॉर दिस… लिखकर किया सुसाइड
श्रद्धा ने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि मेरे सुसाइड की वजह IPS अशीष तिवारी, विवेक गुप्ता और अनिल रावत हैं।

IPS आशीष अयोध्या जिले में रह चुके हैं SSP
लखनऊ की रहने वाली पीएनबी बैंक की मृतक लेडी अफसर श्रद्धा गुप्ता 5 सालों से अयोध्या में कार्यरत थी। सुसाइड नोट में IPS आशीष तिवारी के साथ पुलिस विभाग अयोध्या में कार्यरत अनिल रावत व विवेक गुप्ता का भी नाम लिखा है। युवती ने विवेक गुप्ता अनिल रावत और IPS आशीष तिवारी को मौत के जिम्मेदार ठहराया है।

SSP बोले- नामों की जांच होगी
SSP शैलेश पांडे ने बताया कि सुसाइड नोट मिला है। उसकी जांच कराई जाएगी। उसमें कुछ नाम है, वह नाम कैसे आए हैं उसकी जांच की जा रही है। जो तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here