– जबरन शादी की और मन भरा तो छोड़ दिया

भोपाल, डीडीसी। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में ब्यूटीशियन नैना उर्फ शिखा को उसी के पति बीजेपी नेता रजत कैथवास ने बेरहमी से मार डाला और लाश हाईवे किनारे फेंक दी। पता लगा कि बीजेपी नेता ने शिखा का अश्लील वीडियो भी बनाया था। धमका कर शादी रचाई और मन भरा तो छोड़ दिया। यही हत्या की असल वजह बताई जा रही है। पुलिस ने बीजेपी नेता के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

15 अक्टूबर को अचानक लापता हुई
कोलार इलाके से बीते 15 अक्टूबर को नैना अचानक लापता हो गई थी। इसके बाद 24 वर्षीय इस ब्यूटीशियन का शव बरामद सीहोर पुलिस को राष्ट्रीय राजमार्ग-69 पर मिडघाट सेक्शन के पास मिला था। पुलिस का दावा है कि भाजपा नेता ने एक साल पहले उससे शादी की थी और उसी ने बेरहमी से हत्या कर दी।

अश्लील वीडियो के बूते रचाया था ब्याह
शिखा के पिता शारदा पासवान ने बीजेपी नेता रजत पर गंभीर आरोप लगाए हैं। शारदा का आरोप है कि रजत ने उनकी बेटी का अश्लील वीडियो बना लिया था। इसके बाद वह उसे ब्लैकमेल करने लगा। शादी नहीं करने पर वीडियो वायरल करने की धमकी देता था। रजत कैथवास खुद को भाजपा की यूथ विंग भारतीय जनता युवा मोर्चा में शाहजहांनाबाद मंडल का उपाध्यक्ष बताता है। शारदा का आरोप है कि महीनेभर घर में रखने के बाद रजत ने शिखा को यह कहकर भगा दिया कि उसके माता-पिता शादी से खुश नहीं हैं। शिखा ने इसका विरोध भी किया, लेकिन रजत ने उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके बाद बेटी मायके में आकर रहने लगी थी।

केस वापस लेने का बना रहा था दबाव
शिखा ने पति रजत के खिलाफ कोर्ट में भरण-पोषण का मामला दर्ज कराया था। इसके साथ ही पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। बताया जा रहा है कि आरोपी 15 अक्टूबर को नैना को सलकनपुर मंदिर के दर्शन करने के बहाने भोपाल से लेकर गया था। शारदा पासवान ने पुलिस को बताया है कि रजत केस वापस लेने के लिए दबाव बना रहा था। केस वापस नहीं लेने पर हत्या की धमकी देता था।

पहले ही रच ली थी कत्ल की साजिश
पुलिस के मुताबिक साजिश के तहत ही वह शिखा को धार्मिक स्थल के बहाने सीहोर जिले के बुदनी लेकर पहुंचा। बुदनी के जंगल में नैना की हत्या कर वह भोपाल आ गया। पुलिस उसके माता-पिता से भी पूछताछ कर रही है। रजत के पिता रविशंकर कैथवास मध्य प्रदेश सरकार के स्टेट गैरेज में नौकरी करते हैं, जबकि मां रेखा गृहणी है। शारदा का आरोप है कि उनकी बेटी को रजत के अलावा उसके माता-पिता भी प्रताड़ित करते थे।

अगले ही दिन पुलिस ने शुरू की तलाश
16 अक्टूबर को परिजनों ने कोलार थाने में नैना की गुमशुदगी दर्ज कराई। इसी बीच सीहोर पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्ग-69 पर मिडघाट सेक्शन के पास मिली अज्ञात युवती का शव बरामद किया गया। शव की पहचान पुलिस ने शिखा के रूप में की थी।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here