– 12 मई अल्मोड़ा के एक गांव से ब्याह कर दुल्हन हल्द्वानी लाया था दूल्हा

हल्द्वानी, डीडीसी। अल्मोड़ा की दुल्हन में हल्द्वानी वाले दूल्हे अपने दिल्ली वाले दिलबर के लिए 4 दिन में छोड़ दिया। सोमवार को हल्द्वानी कोतवाली में पति, पत्नी और प्रेमी की नाटकीय कहानी चर्चा का सबब बनी रही। इस हाय तौबा के बीच दुल्हन ने साफ कर दिया कि अब ससुराल वापस नहीं जाऊंगी।

हल्द्वानी कोतवाली क्षेत्र में रहने वाले एक युवक की शादी अल्मोड़ा के एक गांव में रहने वाली लड़की के साथ 12 को हुई थी। ससुराल में दुल्हन ने सारी रश्में निभाई, लेकिन दूल्हे से दूरी बनाए रखी। रविवार की शाम अचानक दुल्हन बिफर गई और चौकी पहुंच गई। बावजूद इसके लड़का दुल्हन को अपनाने को तैयार था, लेकिन सोमवार दोपहर दुल्हन कोतवाली पहुंच गई।

दिल्ली से बुलाया गया प्रेमी बोला, अब मैं कहां ले जाऊंगा
लड़की ने पुलिस ने को बताया कि वह पिछले एक साल से दिल्ली वाले से प्यार करती है। इस प्यार की जब घरवालों को भनक लगी तो उन्होंने जबरन शादी करा दी। जिसके बाद पुलिस ने प्रेमी को दिल्ली से बुला लिया। पूछने पर प्रेमी बोला कि अब मैं इसे कहां ले जाऊंगा, लेकिन लड़की फिर भी लड़के के साथ जाने को अड़ी रही।

लड़की का पिता बोला, बस निकल गई है अब कल आऊंगा
हल्द्वानी। बखेड़ा खड़ा होने के बाद पुलिस ने लड़की के पिता से संपर्क किया और मामला निपटाने के लिए कोतवाली बुलाया। इस पर लड़की के पिता ने यह कह दिया कि यहां से तो हल्द्वानी के लिए एक ही बस चलती है और अब वो भी निकल चुकी है। इसलिए अब वह आज तो नहीं आ पाएगा, वह अब कल ही आऊंगा।

बोली, मैंने तो पहले ही कहा था शादी होते ही तलाक दे देना
लड़की ने पुलिस को बताया कि उसकी शादी तय हुए एक साल हो गए हैं। इस दौरान वह अपने प्रेमी से भी बात कर रही थी और होने वाले पति से भी। होने वाला पति जब अपनी होने वाली पत्नी से बात करता तो बेमन बात करती। शादी से कुछ दिन पहले लड़की ने अपने होने वाले पति से कहा था कि वह शादी सिर्फ घरवालों के दबाव में कर रही है और कहा था कि शादी होते ही वह उसे तलाक दे देगा। दूल्हा राजी नहीं हुआ तो उसने यह कदम उठा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here