– थाने में पंचायत, दूल्हा पक्ष को देना पड़ा शादी का आधा खर्चा

प्रतापगढ़, डीडीसी। अमूमन देखने को ये मिलता है कि दहेज मांगने और शादी में दारू पीने वाले दूल्हे को दुल्हन बैरंग लौटा देती है, लेकिन यहां तो मामला कुछ और ही है। प्रतापगढ़ में दुल्हन का मूड इस बात खराब हो गया कि उसका होने वाला दूल्हा उसके लिए सिर्फ एक जेवर ले कर आया। इस बात से तमतमाई दुल्हन में बखेड़ा खड़ा कर दिया और दूल्हा समेत पूरी बारात को दरवाजे से वापस लौटा दिया। और तो और शादी में हुए खर्च का आधा रुपया भी दूल्हे से वसूल लिया। इस वसूली के लिए दुल्हन, दूल्हा पक्ष को थाने तक घसीट ले गई। उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर का रहने वाला दूल्हा बारात लेकर प्रतापगढ़ के पट्टी थाना क्षेत्र के दुकरा गांव गया था।

खाना खा चुकी थी बारात, फिर हुआ बवाल
बारात सुल्तानपुर के मीरपुर क्षेत्र के प्रतापपुर से आई थी। बाराती भोजन कर चुके थे। शादी के लिए चढ़ावा दुल्हन के घर भेजा गया। उसमें सिर्फ एक जेवर देख दुल्हन पक्ष के लोग भड़क गए। इस पर दोनों पक्षों में विवाद होने लगा। बात बढ़ी तो दुल्हन ने खुद आगे बढ़कर शादी से इनकार कर दिया। दुल्हन को मनाने की काफी कोशिशें की गई, लेकिन वो नही मानी। नतीजतन दूल्हे को बिना दुल्हन बारात वापस लेकर लौटना पड़ा।

अगले दिन थाने में गई पंचायत
गुरुवार को दोनों पक्ष में पट्टी थाने में पंचायत हुई। इसमें लड़की पक्ष ने खानपान पर 1.40 लाख रुपये खर्च होने की बात कही। इसमें लड़का पक्ष की ओर से आधा खर्च वहन करने की बात तय हुई। लड़का पक्ष के लोगों ने 60 हजार रुपये दिया। 10 हजार बाद में देने की बात कह कर चले गए। थाना प्रभारी नरेंद्र सिंह ने बताया कि वह चुनाव ड्यूटी में बाहर थे। थाने पर लोग आए थे, लेकिन क्या निर्णय हुआ इसकी जानकारी नहीं है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here