– दलाल के जरिए हुई थी शादी, दोबारा भेजने के मांगे पांच लाख

डूंगरपुर, डीडीसी। डूंगरपुर के साबला थाना इलाके में तीन लाख रुपए में खरीदी गई दुल्हन (Looteri Dulhan) 15 दिन बाद ही पति को छोड़ मामा के साथ फरार हो गई। पुलिस ने इस मामले में दलाल समेत चार आरोपियों की गिरफ्तार किया है। फिलहाल, दुल्हन अभी फरार है और तलाश में पुलिस की कई टीमें जुटी है। पता लगा है कि लुटेरी दुल्हन पहले भी ऐसे कारनामे कर चुकी है।

मध्यप्रदेश के दलाल ने कराया था ब्याह
साबला एसओ मनीष कुमार ने बताया कि इस संबंध में साबला निवासी अटल बिहारी जैन ने 1 अक्टूबर को रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। जैन ने बताया कि उसने शादी के लिये मध्यप्रदेश के दलाल गुलाब सिंह से संपर्क किया था। उसने सोना जायसवाल नाम की लड़की से शादी करवाने के नाम पर उससे तीन लाख रुपए मांगे थे। बीती 3 अगस्त को दलाल गुलाब सिंह, उसकी पत्नी रजनी, लड़की सोना जायसवाल, मामा तिलक, लड़की की मां रेखा और उसकी बहन अनुष्का उसके घर आए।

राखी का बहाना बना कर भागी मामा के साथ
घर में बैठकर शादी की सभी बातें तय हुईं। उसने 3 लाख रुपए दलाल गुलाब सिंह को दे दिए। उसके बाद आसपुर कोर्ट से 500 रुपए के स्टाम्प पर शादी की लिखा पढ़ी की गई। गोल आसपुर मंदिर में शादी कराई गई। शादी के बाद सोना के परिवार के लोग उसे छोड़कर वापस मध्यप्रदेश चले गए। दुल्हन सोना 15 दिन तक उसके घर पर रुकी। इसके बाद राखी पर उसका मामा तिलक साबला आया और सोना को अपने घर ले जाने की बात कहते उसे हुए ले गया, लेकिन फिर दुल्हन लौट कर नहीं आई।

दोबारा भेजने के लिये मांगे पांच लाख रुपये
इस मामले पर जब परिवार ने दलाल से संपर्क किया तो उसने फिर से 5 लाख रुपए की मांग कर दी। पीड़ित अटल बिहारी जैन की रिपोर्ट पर पुलिस ने छानबीन करते हुए चार आरोपियों को पकड़ा है। पुलिस ने बताया कि दलाल गुलाब सिंह मध्यप्रदेश के शाजापुर इलाके के कालापीपला का रहने वाला है। गुलाब सिंह समेत उसकी पत्नी रजनी, भोपाल निवासी लड़की के मामा तिलक और मां रेखा को गिरफ्तार कर लिया गया है। दुल्हन सोना जायसवाल फरार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here