– शनिवार सुबह से एक भी बस नही गई उत्तर प्रदेश और दिल्ली

देहरादून, डीडीसी। अब अगर आप उत्तराखंड से बाहर जाने की सोच रहे हैं तो ये खबर आपके लिए है। वजह कि अब रोडवेज की बसों से उत्तराखंड से बाहर जाना तो दूर अब आप उत्तराखंड में भी सफर नही कर पाएंगे। क्योंकि बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते उत्तर प्रदेश ने अपनी सीमाएं सील कर दी हैं। जिसकी वजह से उत्तराखंड के भीतर भी बसों का चलना मुश्किल हो गया है। आपको बता दें कि उत्तराखंड से दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा और पंजाब जाने वाली ज्यादातर बसें उत्तर प्रदेश सीमा क्षेत्र से होकर गुजरती हैं और उत्तर प्रदेश सरकार से अपने प्रदेश की सीमाएं सील कर दी है।

कोरोना संक्रमण के बावजूद उत्तराखंड ने अंतरराज्यीय बस संचालन बंद नहीं किया है। प्रदेश सरकार ने फिलहाल पूरे प्रदेश में कोविड कर्फ्यू लागू किया हुआ है और इसमें निजी सार्वजनिक यात्री वाहनों का परिवहन प्रतिबंधित है। इसमें सिर्फ रोडवेज बसों को संचालन की अनुमति है। दो दिन पूर्व उत्तर प्रदेश ने अपनी बसों के अंतरराज्यीय संचालन पर रोक लगा दी थी। शुक्रवार को उत्तर प्रदेश ने दूसरे राज्यों की रोडवेज बसों के अपने सीमा क्षेत्र में संचालन पर पाबंदी के आदेश दे दिए।

हरिद्वार और देहरादून भी आना-जाना मुश्किल होगा
हरिद्वार भी उत्तराखंड में है और देहरादून भी, लेकिन यहां आने- जाने के लिए बसों को उत्तर प्रदेश की सीमा में दाखिल होना होता है। तब जा कर यात्री अपने गंतव्य तक पहुंचते है। चूंकि अब उत्तर प्रदेश की सीमाएं सील हैं तो ऐसे में बसों का संचालन उत्तराखंड के भीतर भी मुश्किल हो गया है। हालांकि शुक्रवार को उत्तराखंड रोडवेज के महाप्रबंधक दीपक जैन ने कहा था कि उन्हें अधिकारिक आदेश नहीं मिले हैं। इसलिए शनिवार की सुबह बस संचालन किया जाएगा। यदि इन बसों को लौटाया गया तो बस संचालन के लिए वैकल्पिक मार्ग देखे जाएंगे। फिलहाल संचालन बंद हो चुका है और वैकल्पिक मार्ग क्या होंगे इस पर कोई फैसला नही आया है।

यमुनानगर-करनाल होकर दिल्ली मार्ग पर जाएंगी बसें!
उत्तर प्रदेश में प्रवेश पर पाबंदी के बाद रोडवेज प्रबंधन ने दिल्ली व राजस्थान जाने वाली कुछ बसों को यात्रियों की उपलब्धता के आधार पर पांवटा साहिब-यमुनानगर से करनाल-पानीपत होते हुए दिल्ली मार्ग पर चलाने की तैयारी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here