दिल्ली, डीडीसी। कोरोना वायरस का घर-घर तलाशी अभियान दिल्ली में शुरू होने जा रहा है। इस अभियान को अंजाम तक पहुंचाने के लिए केंद्र सरकार ने दिल्ली में दखल दिया है। दिल्ली में हर रोज 60 हजार टेस्टिंग की तैयारी में है।
गृह मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने बुधवार को ट्विटर पर तमाम जानकारी साझा की। आपको बता दें कि बीते 15 नवंबर को हुई गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में उच्च अधिकारियों के साथ मीटिंग को और घर-घर कोरोना टेस्टिंग की योजना बनाई। योजना 25 नवंबर को धरातल पर उतारी जाएगी। इसके तहत पहले ही दिल्ली पहुंच चुके सीएपीएफ के 45 डॉक्‍टर और 160 पैरामेडिक्‍स को डीआरडीओ हॉस्पिटल और छतरपुर के पास कोविड केयर सेंटर में तैनात किया जाएगा। दिल्‍ली एयरपोर्ट के पास स्थित कोविड अस्‍पतालों में डीआरडीओ 250 आईसीयू बेड और 35 बीआईपीएपी बेड जोड़े जाएंगे। 10 मल्‍टी डिस्‍पिलिनरी टीमों को दिल्‍ली के 100 प्राइवेट हास्पिटल में आईसीयू बेड और कोरोना टेस्टिंग संबंधी जानकारी जुटाने में लगाया जाएगा। भारतीय रेलवे शकूरबस्‍ती रेलवे स्‍टेशन में 800 बेड के रेलवे कोच देगा। जबकि भारत इलेक्ट्रॉनिक्‍स लिमिटेड ने 250 वेंटिलेटर भेजे हैं। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च और दिल्‍ली सरकार राजधानी में नवंबर के अंत तक प्रतिदिन 60 हजार कोरोना टेस्‍ट कराने की तैयारी में है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here