– जिला प्रशासन चमोली ने आपदा में मारे गए लोगों की सूची जारी की

चमोली, डीडीसी। चमोली में आई आपदा कितना कुछ बहा के ले गई। किसी का घर, किसी की उम्मीदें तो किसी की जिंदगी। कुछ समूचे शव बरामद में हो रहे हैं तो किसी की लाश टुकड़ों में मिल रही है। भयावहता ये की लाशों की पहचान के नाम पर अब तमाम लोगों में से किसी का हाथ तो किसी का पैर मिल रहा है और ये सिलसिला अभी जारी है। रेस्क्यू में जुटी टीमें बाकी बचे लोगों को सकुशल बरामद करने की कोशिश कर रही है, लेकिन गुजरते वक्त के साथ उम्मीदें धूमिल पड़ती जा रही है। आज चमोली जिला प्रशासन ने अभी तक बरामद हुए शव और शव के टुकड़ों की सूची जारी की है।

यहां-यहां से मिले हाथ और पैर
चमोली जिला प्रशासन की सूची ही आपदा की भयावहता बताने के लिए काफी है। जारी सूची पर गौर करें तो 7 फरवरी को लंगासु में 1 पैर बरामद हुआ। 8 फरवरी को जिलासू, कैलाश्वर और मैठाणा से 3 पैर मिले हैं। 8 फरवरी को ही अल्कापुरी के बुराली से एक हाथ बरामद हुआ। जबकि 9 फरवरी को टेन्टुणा से एक दायां हाथ और एक दायां पैर मिला है। लापता हुए लोगों के हाथ, पैर और शरीर के अन्य हिस्सों के टुकड़े मिलना लगातार जारी है। जबकि रैणी, टेन्टुणा, डिडोली नंदप्रयाग, श्रीनगर गोला बीच पौड़ी, जवाड़ी रुद्रप्रयाग, बेलनी रुद्रप्रयाग, रतूडा धारकोट रुद्रप्रयाग, सारी भेंसवाडा, कोटेश्वर बेला रुद्रप्रयाग, चमोली बुराली अल्कापुरी, चमोली, चमोली बाजपुर, बिरही, बमोथ पोखरी, कालेश्वर, छिनका मठ, छिनका बडी, मैठाणा, विरही, कर्णप्रयाग संगम, लंगासू और तपोवन से अभी तक 32 लाशें बरामद की गई हैं।

दूसरे जिलों तक बहा कर ले गया सैलाब
सैलाब की भयावहता का अंदाजा लगाना यूं तो मुश्किल है, लेकिन जिन लोगों ने इस सैलाब को खुली आँखों देखा वो इस भयावहता को शब्दों में बयां भी नही कर सकते। सैलाब कितना तेज था इसे इस बात से समझिए कि लाशें के एक जिले से बहकर दूसरे जिलों तक पहुंच गईं। 32 लोगो के शव तो पूरी तरह सुरक्षित मिले। इनमें से 20 लाशें चमोली जिले में यहां-वहां मिली। जबकि 5 लाशें रुद्रप्रयाग जिले में मिलीं और 1 लाश पौड़ी श्रीनगर गोवा बीच से बरामद हुई। इसके साथ ही पुल टूटने से फंसे 55 लोगों का हैली रेस्क्यू भी किया गया है।

अभी 172 लोग लापता
चमोली तपोवन आपदा में 206 लोग लापता थे, जिनमें से 2 लोग जिन्दा हैं। इनमें से एक राशिद सहारनपुर का रहने वाला है और दूसरा सूरज सिंह चमोली का रहने वाला है। ये दोनों अपने घर पर सुरक्षित है, जो अभी तक लापता लोगों की सूची में थे। आपदा मे 204 लोग लापता हुए थे, जिसमें से 32 लोगों के शव बरामद हुए है और 10 क्षत विक्षत मानव अंग बरामद हुए हैं। अभी 172 लोग अभी मिसिंग हैं।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here