– 1 फरवरी से ‘उत्तराखंड में भी केजरीवाल’ नाम से चुनावी रण का बिगुल फूंकेंगे डिप्टी सीएम सिसौदिय

देहरादून, डीडीसी। वर्ष 2022 में उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव होने हैं। इस चुनावी रण में अभी तक दो दावेदार थे, लेकिन अब तीसरे दावेदार के दखल से रण मुश्किल हो गया है। 1 फरवरी से आम आदमी पार्टी विधिवत चुनावी आगाज करने जा रही है। आम आदमी पार्टी ‘उत्तराखंड में भी केजरीवाल’ के नाम से कार्यक्रम का आगाज कर है और इस खास मौके पर खुद दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया मौजूद होंगे। 1 फरवरी से शुरू होने वाले इस कार्यक्रम के तहत पहले 45 दिन में पार्टी ने उत्तराखंड के 1 लाख लोगों को टारगेट पर लिया है। अब देखना ये है कि कांग्रेस और भाजपा बाहुल्य उत्तराखंड में ‘आप’ क्या गुल खिला पाती है।

70 विधानसभा और 70 वीडियो वैन
दिल्ली कर उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया उत्तराखंड की 70 विधानसभाओं में 70 वीडियो वैन को हरी झंडी दिखा कर रवाना करेंगे। वीडियो वैन सभी विधानसभाओं में पार्टी की नीतियों और विकास मॉडल को लोगों के सामने रखेगी। इस कार्यक्रम के साथ ही सदस्यता अभियान भी जारी रहेगा। अगले 45 दिन में पार्टी एक लाख नए सदस्य बनाएगी।

6500 जनसभाएं और 10 लाख घर
राज्य में विधानसभा चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी राज्य में 6500 जनसभाएं आयोजित करेगी और कार्यकर्ता करीब 10 लाख घरों तक पहुंच बनाएंगे। आप के प्रदेश अध्यक्ष कलेर ने कहा कि राज्य को बने 20 वर्ष पूरे हो चुके हैं, लेकिन अब तक पृथक राज्य के लिए देखे गए सपने अधूरे हैं। पलायन ने पहाड़ खाली कर दिए है। अभियान के दौरान पार्टी कार्यकर्ता राज्य की मौजूदा समस्याओं का समाधान जनता के सामने रखेंगे।

सिसौदिया की चुनौती का दिल्ली में देंगे जवाब
उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने उत्तराखंड के शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक को विकास मॉडल को लेकर प्रस्तावित बहस की खुली चुनौती दी थी। शुरुआत में कौशिक ने सिसोदिया की यह चुनौती स्वीकार कर ली थी, लेकिन अब उन्होंने कहा है कि उत्तराखंड बनाम दिल्ली मॉडल पर चर्चा के लिए वह खुद दिल्ली जाएंगे। उन्होंने कहा, सिसोदिया द्वारा 4 जनवरी को देहरादून में बहस के लिए तारीख तय करने से कुछ नहीं होता।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here