– डॉक्टर की बीवी और मां ने किया था कत्ल, मृतका का डॉक्टर से था अफेयर

भरतपुर, डीडीसी। राजस्थान (Rajasthan) के भरतपुर (Bharatpur) में शुक्रवार को नीम दा गेट इलाके में दिनदहाड़े डॉक्टर दंपती (Doctor Couple’s) की हत्या (Murder) कर दी गई। वारदात के वक्त डॉ. सुदीप गुप्ता अपनी पत्नी डॉ. सीमा गुप्ता के साथ कार से कहीं जा रहे थे। तभी बाइक से आए 2 युवकों ने गोलियां चलानी शुरू कर दीं। इससे दोनों की मौके पर ही मौत हो गई। भरतपुर IG प्रसन्न कुमार खमेसरा ने खुलासा किया है कि डॉक्टर दंपती की हत्या बदला लेने के लिए की गई है। डॉ. सीमा गुप्ता पर आरोप था कि उन्होंने 2 साल पहले पति सुदीप गुप्ता की प्रेमिका दीपा गुर्जर और उसके बेटे की जिंदा जलाकर हत्या कर दी थी। हत्यारों में एक डॉ. सुदीप गुप्ता की प्रेमिका दीपा गुर्जर का भाई अनुज गुर्जर और दूसरा उसका धौलपुर का एक दोस्त है।

इनविटेशन कार्ड पर पति का नाम देखा तो खुला मोहब्बत का राज
डॉ. सुदीप गुप्ता और उनकी पत्नी सीमा भरतपुर शहर में रहते थे। डॉक्टर दंपती ने भरतपुर की सूर्या सिटी जैसी पॉश कॉलोनी में एक विला खरीदा था। इस विला में डॉक्टर सुदीप अपनी कथित प्रेमिका दीपा गुर्जर को रखने लगा। दीपा डॉ. सुदीप की क्लिनिक में रिसेप्शनिस्ट थी। डॉ. सुदीप ने पत्नी डॉ. सीमा को बताया कि उसने एक महिला बैंक मैनेजर को विला किराए पर दे दिया है। मृतका दीपा इस विला में 1 नंवबर 2019 को पार्लर खोलने वाली थी। तब निमंत्रण कार्ड में डॉ. सुदीप का नाम छपा देखकर उनकी पत्नी डॉ. सीमा को अवैध संबंधों का पता चल गया।

दीपा और शौर्य को कमरे में बंद का जिंदा जलाया
इसके बाद सुदीप की पत्नी सीमा ने दीपा को सबक सिखाने की ठान ली। वह अपनी सास के साथ विला पहुंची। वहां डॉक्टर सीमा और दीपा के बीच हाथापाई हुई। सीमा ने दीपा और उसके बेटे शौर्य को कमरे में बंद कर दिया। इसके बाद स्प्रिट छिड़ककर आग लगा दी। इससे दीपा और उसके बेटे की मौत हो गई। तब कोतवाली थाना पुलिस ने डॉ. सुदीप और डॉ. सीमा को हत्या के मुकदमे में गिरफ्तार किया था। ये घटना दो साल पुरानी है और अब दो साल बाद दीपा के भाई ने इस कत्ल का बदला लिया।

हत्या का सीसीटीवी फुटेज हुआ वायरल
डॉक्टर दंपती की हत्या का सीसीटीवी वीडियो भी सामने आया है। वीडियो में दिख रहा है कि दो युवक डॉक्टर दंपती की गाड़ी के आगे बाइक लगा देते हैं। दोनों बाइक से उतरकर गाड़ी के पास पहुंचते है। कुछ बात होती है और फिर बाइक सवार कमर से पिस्तौल निकाल लेता हैं। इस दौरान वे डॉक्टर को कुछ बोलते हुए दिखाई दे रहे हैं। इसके बाद डॉक्टर और उसकी पत्नी को गोली मार देते हैं। दोनों पर करीब 6 गोलियां चलाई जाती हैं। इसके बाद बाइक पर बैठकर दोनों अपराधी पिस्तौल को लहराते हुए फरार हो जाते हैं।

अदालत से जमानत के बाद लिखी कत्ल की पटकथा
दीपा और उसके बेटे शौर्य के कत्ल के मामले में आरोपियों को अदालत से जमानत मिल गई थी और यही बात दीपा के भाई को रास नही आई। जमानत मिलने के बाद ही उसने डॉक्टर दम्पति को खत्म करने का तानाबाना बुनना शुरू कर दिया था। बताया जाता है कि जमानत से बाहर आने के बाद से ही डॉक्टर को धमकी मिल रही थी। डॉक्टर को कुछ दिनों से अस्पताल नाम करने की धमकी मिल रही थी। उसका भरतपुर में ही श्रीराम अस्पताल है। इसके बाद डॉक्टर ने उन्हें कुछ रुपए भी दिए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here