पटना, डीडीसी। आशिक मिजाज डीएसपी को आखिरकार अपने कर्मों की सजा भुगतनी ही पड़ी। पूरी नौकरी शान से करने वाले इन साहब को नौकरी के अंतिम पड़ाव पर आकर अपने कर्मों का हिसाब-किताब करना पड़ा। डीएसपी साहब एक ऑडियो टेप वायरल होने की वजह से फंस गए। जिसमें वो एक लडक़ी से अश्लील बातें करते सुनाई दे रहे थे। बातें भी इतनी अश्लील की हम आपको न तो सब कुछ सुना सकते हैं और न बता सकते हैं।
इन डीएसपी साहब का नाम है एसए हाशमी और ये सेवानिवृत्त हो चुके हैं। ये मामला है वर्ष 2018 का और तब डीएसपी साहब का कार्यकाल चल रहा था और वो भी पूरे रौब के साथ। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक ऑडियो वायरल होना शुरू हुआ और इस ऑडियो को जिसने भी सुना वह सुन कर न सिर्फ खुद मजे ले रहा था, बल्कि दूसरों को भी भेज रहा था। आलम यह हुआ कि बिहार के साथ तमाम राज्यों में इस ऑडियो ने सुख्र्रियां बटोरनी शुरू कर दी। सनसनी तब और मचने लगी, जब लोगों को यह पता चला कि ये ऑडियो डीएसपी एसए हाशमी का है। इस घटना से बिहार पुलिस की छवि भी दागदार हुई। लोगों के बीच से होता हुआ यह मामला राष्ट्रीय महिला आयोग तक जा पहुंचा। महिला आयोग ने इस मामले का संज्ञान लिया। इस मामले की जांच शुरू हुई तो मामला सही पाया गया। फॉरेंसिक साइंस लैबोरेटरी की जांच में भी यह साफ हो गया कि ऑडियो में डीएसपी एसए हाशमी की ही आवाज है। इस मामले में हाशमी को निलंबन की कार्रवाई भी झेलनी पड़ी। ये निलंबन पटना सेंट्रल रेंज के डीआईजी शिवकुमार झा की रिपोर्ट के आधार पर हुआ था। रिपोर्ट के आधार पर पुलिस मुख्खयालय ने गृह विभाग के प्रधान सचिव आमिर सुबहानी से टाउन डीएसपी को तत्काल निलंबित करने की अनुशंसा कर दी है। हाशमी की सेवानिवृति के बाद सरकार ने उनके खिलाफ पेंशन नियमावली के तहत विभागीय कार्यवाही चलाने का निर्देश दिया है। गृह विभाग ने संकल्प जारी कर डीआईजी, एटीएस विकास वैभव को संचालन पदाधिकारी बनाया है। इस मामले में हाशमी से लिखित जवाब भी मांगा गया था, लेकिन जवाब को स्वीकार करने योग्य नहीं माना गया। राज्य सरकार ने मामले को गंभीर मानते हुए सेवानिवृति के बाद बिहार पेंशन नियमावली के तहत उनके खिलाफ विभागीय कार्यवाही चलाने का फैसला लिया है।

ये-ये कह रहे थे हाशमी साहब लडक़ी से
तमाम सारे व्हाट्सएप ग्रुप और सोशल मीडिया साइट्स पर हंगामा खड़ा होने के बाद हाशमी साहब जांच में फंस गए। वह एक लडक़ी से फोन पर अश्लील बातें कर रहे थे। इस ऑडियो में तीन लोगों की आवाज सुनाई दे रही है। ऑडियो में पहली आवाज एक आदमी की है और वो ऑडियो क्लिप की शुरुआत में हाशमी को सर कह कर संबोधित करता है। इसके बाद उसकी आवाज नहीं आती। क्लिप में अगली आवाज डीएसपी हाशमी और एक लडक़ी की सुनाई देती है। हाशमी लडक़ी से कहते हैं कि मोबाइल पर अपना फोटो भेजो और फिर कहते हैं कि तुम मुझे खुश कर दो। फिर लडक़ी बोलती है और कहती है कि खुश करने के एवज में उसे एक मोबाइल देना होगा। इसके बात तो दोनों के बीच बातों का सिलसिला चल पड़ता है और फिर ऐसी-ऐसी गंदी बातें होती हैं, जिसका जिक्र यूं नहीं किया जा सकता। दोनों के बीच यह बातचीत पूरे एक मिनट और 26 सेकेंड की है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here