– डीएम, एसएसपी और भारी फोर्स की मौजूदगी में की गई कार्यवाही

बागपत, डीडीसी। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बागपत (Baghpat) में कृषि कानूनों के विरोध में पिछले 40 दिनों से चल रहे धरने (Dharna) में आधी रात खलल पड़ गया। दल-बल के साथ पहुंचे पुलिस (Police) प्रशासन ने बुधवार आधी रात जबरन धरना खत्म करा दिया। डीएम और एसपी के निर्देशन में धरना स्थल पर पहुंची कई थानों की फोर्स का फोर्स मौजूद था और जब किसान प्यार से नही मानें तो बल प्रयोग कर किसानों को खदेड़ दिया गया। नेशनल हाईवे 709b पर चल रहे धरने में दर्जनों से ज्यादा लोग बैठे थे। धरना जब खत्म कराया तो मौके पर डीएम, एसपी, एडीएम, एसपी सहित तमाम अधिकारी और कई थानों का पुलिस बल मौजूद था।

पुलिस ने उखाड़ कर फेंक दिया तंबू
किसानों को खदेड़ने के बाद पुलिस-प्रशासन ने किसानों को स्पष्ट चेतावनी दी कि वो वापस लौट कर धरना स्थल पर न आए और न ही हाइवे जाम करने की कोशिश करें। अगर ऐसा किया तो गंभीर अंजाम भुगतना होगा। जिसे बाद पुलिस-प्रशासन ने हाईवे पर बना किसानों का तंबू गिरा दिया और धरना स्थल पर रखा सामान ट्रैक्टर में भरकर वापस भिजवा दिया।

एनएचआई के पत्र हुई कार्रवाई
एडीएम बागपत अमित कुमार की मानें तो इन किसानों ने पिछले काफी दिनों से नेशनल हाईवे का एक साइड जाम कर रखा था। आज एनएचआई ने हाईवे खाली करवाने को लेकर जिला प्रशासन को पत्र लिखा था। उसी पत्र पर कार्रवाई करते हुए पुलिस प्रशासन ने हाईवे खाली कराया है।

40 दिनों से चल रहा था धरना
बागपत केे बड़ौत में पिछलेे 40 दिनों से नेशनल हाईवे 709b पर किसान यूनियन और खाप चौधरियोंं का धरना चल रहा था। जिला प्रशासन ने कई बार सुलह कराकर धरना समाप्त कराने की कोशिश की, लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। आज एसपी बागपत अभिषेक कुमार और डीएम राजकमल यादव के नेतृत्व में भारी पुलिस बल धरना स्थल पहुंची और बल प्रयोग कर किसानों का धरना खत्म करा दिया।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here