– चम्पावत के एक अधिवक्ता ने दर्ज कराया है मुकदमा

चम्पावत, डीडीसी। आकांक्षा मोटर्स के मालिक और मैनेजर के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया गया। ये मामला नई कार के एक्सीडेंट और एक्सीडेंट क्लेम से जुड़ा है। फिलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

एसपी के आदेश पर दर्ज हुआ मुकदमा
जिला मुख्यालय के एक अधिवक्ता ने मारुति कंपनी के डीलर पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया है। अधिवक्ता यतीश जोशी ने एसपी लोकेश्वर सिंह को पत्र सौंपा। जिसके बाद चम्पावत स्थित आकांक्षा मारुति शोरूम के मालिक और मैनेजर के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ।

अधिवक्ता ने दिसंबर में उक्त शोरूम से मारुति बलेनो कार खरीदी थी। शोरूम ने गाड़ी सौंपने से पहले अधिवक्ता से टीआरसी के लिए 35 सौ रुपये लिए थे। हालांकि जब आरसी मांगी तो शोरूम के मैनेजर डीपी पांडेय ने कुछ दिनों के लिए उन्हें टरका दिया और कहा कि आरसी बन गयी है, लेकिन कुछ दिन बाद मिलेगी।

और 24 दिसम्बर को हो गया हादसा
24 दिसंबर 20 को बलेनो कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई। तब कंपनी की ओर से 24 दिसंबर को एआरटीओ रुद्रपुर से रिलीज आरसी उपलब्ध कराई गई। जबकि आरसी बनने के हफ्तेभर बाद ही दुर्घटना का क्लेम मिल पाता है। कंपनी की धोखाधड़ी के खिलाफ अधिवक्ता ने एसपी से शिकायत की। एसपी के आदेश पर कोतवाली में धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। कोतवाल धीरेंद्र कुमार ने बताया कि आकांक्षा मारुति शो रूम के मालिक और मैनेजर के खिलाफ आईपीसी की धारा 417 और 418 के तहत मामला दर्ज किया गया है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here