– आपके बारे में कितना जानता है Google? खुद ही जानें

सर्वेश तिवारी, डीडीसी। भाई साहब जाने-अंजाने आप गूगल बाबा की शरण में पहुंच चुके हैं। ये वो बाबा हैं जो पूरी दुनिया की जानकारी आपको देते है, फिर जानकारी कुछ भी हो। आप अपनी बीवी और गर्लफ्रैंड से तो सब कुछ छिपा सकते है, लेकिन गूगल बाबा से नहीं। क्योंकि ये आपके बारे वो सब जानते हैं, जो सिर्फ आपको पता होता है। तो क्या आप नही जानना चाहते कि गूगल आपके बारे में क्या-क्या जानता है? यकीन न हो तो आजमाए इस ट्रिक को।

इंटरनेट का जमाना और स्मार्टफोन बिना कुछ नही
जमाना इंटरनेट वाला है और स्मार्टफोन के बिना इस जीवन को जीना मुश्किल है। खास बात तो ये है कि आज इंटरनेट और स्मार्टफोन के दौर में गूगल (Google) का इस्तेमाल आम है और इतना आम कि आप जैसे ही नया फोन यूज करना शुरू करते हैं, आपका फोन आपसे जीमेल आईडी मांग लेता है। कुल मिलाकर गूगल को भुलाकर आप फोन या लैपटॉप पर कुछ भी नहीं कर पाएंगे और यहीं से शुरू होती है आपकी गूगल इन्क्वायरी।

ये तो बस बानगी भर है
ये गूगल आपको कितना पहचानता है? या ये कहें कि Google को आपको बारे में कितना पता है? तो जवाब ये है कि गूगल आपके बारे में लगभग सब जानता है। मसलन, आपको क्या खाना पसंद है, आपका इंटरेस्ट किन गाड़ियों में है, आपकी उम्र क्या है, अपकल बर्थ डे कब होता है, आप कौन सी डिवाइस इस्तेमाल करते हैं, आप कौन-कौन सी भाषाएं बोलते हैं। ये तो बस बानगी भर है, गूगल तो आपके बारे में बहुत कुछ जानता है।

ऐसे लगाएं पता कि क्या जानता है गूगल
इसके लिए आपको बस कुछ इंस्ट्रक्शन फॉलो करने है। अपने फोन, लैपटॉप या डेस्कटॉप पर गूगल ब्राउजर ओपन कीजिए। ये जरूरी है कि आपने अपनी पर्सनल जीमेल आईडी लॉग इन की हों। आपको ब्राउजर पर “ad google setting” टाइप करना है। अब आपकी स्क्रीन पर जो पहला लिंक दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें। क्लिक करते ही आपका सारा का सारा राज आपके सामने होगा और बेहद हैरानी भी।

चाहें तो दफन कर दें अपने सारे राज
अगर आपको लगता है कि इस ट्रिक का इस्तेमाल करके कोई आपकी सारी निजी जानकारी हासिल कर सकता है या फिर आपके राज भविष्य में आपके लिए परेशानी खड़ी कर सकते हैं तो आप इस राज को दफन कर सकते हैं। आप चाहें तो स्क्रीन पर दिख रहे रिजल्ट्स को हाइड भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको उस पर्टिकुलर सेक्शन पर क्लिक कर Turn Off का ऑप्शन चुनना होगा। इसके बाद आपकी सारी जानकारी हाइड हो जाएगी।

आप खुद सौंप देते हैं गूगल को अपने सारे राज
गूगल पर कुछ भी सर्च करें या इसके ऐप्स इस्तेमाल करने की। जैसे- क्रोम, गूगल पे या फिर जीमेल ऐप्स। जैसे ही हम मोबाइल पर डेटा ऑन करते हैं तो गूगल से डायरेक्टली-इनडायरेक्टली कनेक्ट हो जाते हैं। कई बार हम Gmail अकाउंट के जरिए कई जगह लॉग इन करते हैं या कई मामलों में कुछ ऐप या वेबसाइट आपसे जीमेल एक्सेस की परमिशन मांगते हैं। अब आप जैसे ही परमिशन देते हैं तो समझ लीजिए कि आप खुद-ब-खुद सारे राज गूगल के सुपुर्द कर देते हैं।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here