– शिक्षा, स्वास्थ्य और पर्यटन विकास सीएम की लिस्ट में टॉप थ्री

अल्मोड़ा, डीडीसी। पहाड़ के वो बच्चे जो दूरी की वजह से स्कूल नही जा पाते, अब ऐसे बच्चों की परेशानी को सरकार जड़ से खत्म करने जा रही है। ऐसे बच्चों के लिए राज्य सरकार बसों का इंतजाम करने जा रही है। रविवार को सांस्कृतिक नगरी अल्मोड़ा पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने सरकारी स्कूल के बच्चों को ये सौगात दी। उन्होंने कहा कि सरकार रोजगार का रास्ता भी खोल रही है और इसके तहत हर प्राथमिक विद्यालय में 5-5 अध्यापकों की नियुक्ति की जाएगी। इसके अलावा उत्तराखंडी परंपरा से जुड़े एपड़ को देश-दुनिया में पहचान दिलाने का एलान किया। साथ ही कहा कि सरकार ने लोक कला और लोक कलाकारों को प्रोत्साहित करने के लिए 5 करोड़ का बजट रखा गया है। ये सारी बातें सीएम त्रिवेंद्र ने रविवार को शीतलापुष्कर मैदान में आयोजित जनसभा के दौरान जनता से साझा की।

768 डाक्टर शीघ्र, फिर होगी 22 सौ डॉक्टर्स की तैनाती
सीएम ने कहा कि प्रदेश को 768 चिकित्सक जल्द मिलेंगे। 2200 डाक्टरों की तैनाती और की जाएगी। शीघ्र ही ढाई हजार नर्स विभिन्न चिकित्सालयों में तैनाती लेंगी। कहा, अगले पांच वर्षों में दोगुने चिकित्सक राज्य में होंगे। टेलीमेडिसन की सुविधा को विस्तार दिया जा रहा है। वहीं राज्य के 500 विद्यालयों में वर्चुअल कक्षाएं चल रही हैं।

माफिया मुक्त हुआ सचिवालय
सीएम ने कहा उत्तराखंड को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना हमारी सरकार की प्राथमिकता रही है। सचिवालय को माफिया मुक्त किया जा चुका है। सीएम ने कहा कि सत्ता संभालते वक्त जो शपथ ली गई थी, इन चार वर्षों में राज्य के विकास व भ्रष्टाचार के खात्मे का ही काम किया है।

पर्यटन विकास में मील का पत्थर साबित होगी तडगताल झील
सीएम ने कहाकि सड़कें दुरुस्त करने को अच्छा खासा बजट खर्च किया है। हवाई पट्टी को महत्व दिया जा रहा। चौखुटिया में तडगताल झील पर्यटन विकास में मील का पत्थर बनेगी। चौखुटिया में हवाई पट्टी से समीपवर्ती द्वाराहाट, रानीखेत ही नहीं कौसानी आदि इलाके भी लाभान्वित होंगे।

हरेला पर राज्य में एक साथ एक घंटा पौध रोपण
लोक पर्व हरेला पर अबकी पूरे राज्य में एक साथ एक घंटा पौधारोपण को दिया जाएगा। सीएम ने कहा कि हरेला पर्व पर्यावरण संरक्षण का प्रतीक है। इस बार इसे खास बनाया जाएगा।

ये गणमान्य मौजूद रहे कार्यक्रकम में

उत्तराखंड चाय विकास बोर्ड उपाध्यक्ष गोविंद सिंह पिलख्वाल, महिला आयोग उपाध्यक्ष ज्योति साह मिश्रा, प्रदेश सहमीडिया प्रभारी विमला रावत, जिलाध्यक्ष रवि रौतेला, महेश नयाल, कैलाश भट्ट, अनिल साही, सुरेंद्र मनराल, पूर्व प्रमुख ममता भट्ट, पूरन कैड़ा, महिला मोर्चा जिलाध्यक्ष ममता भट्ट, घनश्याम भट्ट, भूपेंद्र कांडपाल, सदानंद पांडे, जगदीश बुधानी, उमेश भट्ट, जनार्दन पांडे, आशीष वर्मा, हिमांशु उपाध्याय, दीपक साह, बीना चौधरी आदि मौजूद रहे।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here