– हर किसी के काम बताने से तंग रिसॉर्ट का सबसे छोटा लड़का बना किलर

हल्द्वानी, डीडीसी। कालाढूंगी के पवलगढ़ बैलपड़ाव स्थित बक्सेंट रिसॉर्ट में हुई हत्या का खुलासा हुआ तो कई लोग मौत के मुंह में जाने से बच गए। कातिल सीरियल किलिंग का षड़यंत्र रच चुका था और अपने पहले कत्ल में उसने साथ काम करने वाले के शरीर पर चाकू से तब तक हमले किए, जब तक वह मर नहीं गया। एसपी सिटी हरबंस सिंह ने गुरुवार को इस मामले खुलासा किया।

जोगीपुरा रामनगर निवासी अमन सैनी पुत्र रामचंद्र सैनी महज साढ़े 18 साल का है और रिसॉर्ट का सबसे छोटा कर्मचारी है। रिसॉर्ट का हर कर्मचारी और मैनेजर हर काम उसी से कहते थे और ये इससे परेशान होकर उसने साथ काम करने वाले पवलगढ़ बैलपड़ाव निवासी गिरीश चंद्र त्रिपाठी (54) पुत्र दिनेश चन्द्र त्रिपाठी को मार डाला।

एसपी सिटी हरबंस सिंह ने बताया कि अमन रिसॉर्ट में पांच कत्ल करने वाला था और गिरीश उसका पहला शिकार था। इसके बाद वो रिसॉर्ट कर्मी राजेन्द्र डोबाल, सुरेश सनवाल और फिर पुष्कर धामी को मारना चाहता था। बीती दो अगस्त को रिसोर्ट में राजेन्द्र डोभाल और मृतक गिरीश ने मोबाइल रिचार्ज को लेकर उससे लड़ाई की थी।

उसी रोज अमन, गिरीश को सोने के लिए गार्ड रूम से ड्राइवर रूम लाया और खुद गिरीश के लिए बीड़ी लाने के बहाने रिसॉर्ट के किचन से एक स्टील और लोहे का चाकू ले आया। उसने बीड़ी जलाकर गिरीश को दी और चाकू तकिये के नीचे छिपा दिए। सोने के 5 मिनट बाद अमन ने तकिये से गिरीश का मुंह दबाया और सिर, गर्दन, हाथों, पेट व पीठ पर चाकू से तब तक हमले किए, जब तक वो मर नहीं गया।

एसएसपी पंकज भट्ट ने गुडवर्क करने वाली टीम को पांच हजार इनाम की घोषणा की है। पुलिस टीम में कालाढूंगी थानाध्यक्ष राजवीर सिंह नेगी, बैलपड़ाव चौकी प्रभारी बीरेन्द्र सिंह बिष्ट, कोटाबाग चौकी प्रभारी विजय कुमार, एसआई गगनदीप सिंह, का. गगनदीप सिंह, नसीम अहमद, वीरेन्द्र रौतेला, रविन्द्र सिंह, लेखराज सिंह, मिथुन कुमार, जसवीर सिंह व अमरेन्द्र सिंह थे।

पुराने तंदूर में छिपाया आलाकत्ल
वारदात को अंजाम देने के बाद अमन ने खून से सने चाकू रिसॉर्ट के पिछले गेट के पास रखे पुराने पड़े तंदूर के अंदर छिपा दिए। चाकू खून से सना और एक कपड़े से ढका हुआ था। जबकि अमन ने अपनी खून से सनी टीशर्ट को और लोवर बेड के नीचे से एक पॉलीथिन के अंदर छिपाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here