– बाथरूम गया तो हक्का बक्का रह गया, गयाब था प्राइवेट पार्ट

डालटेनगंज, डीडीसी। झारखंड के डालटेनगंज से डॉक्टर का बेहद ही शर्मनाक मामला सामने आया है। पेशाब करने में परेशानी की शिकायत लेकर मरीज प्राईवेट अस्पताल पहुंचा। दिक्कत खत्म करने के नाम पर डॉक्टर ने उसका ऑपरेशन कर दिया। अगले दिन वह पेशाब करने बाथरूम गया तो हक्का बक्का रह गया। देखा तो उसका गुप्तांग कट चुका था। आरोपी प्राईवेट अस्पताल के संचालक और डॉक्टर दोनों ही फरार हैं और पुलिस तलाश में है।

बस स्टैंड के समीप मोहन सिनेमा रोड में संचालित मां गोदावरी अस्पताल का है। जहां से ये शर्मनाक कर देनी वाला यह घटना सामने आई है। साथ ही इस पूरे घटना को किसी तरह पैसे ले-देकर मैनेज करने की कोशिश की जा रही है। मरीज के परिजनों को पैसे देने के साथ अन्य तरह के लालच का प्रलोभन दिया जा रहा है। इसकी जानकारी पीड़ित के भाई ने दी है। आरोपी निजी अस्पताल और उसके संचालक द्वारा इलाज के खर्च के साथ ही साथ मुआवजा देने की बात कही गई है।

शाहद गांव के रहने वाले 50 वर्षीय मरीज के पेशाब के रास्ते में परेशानी थी। शुक्रवार की रात परिजनों द्वारा को उसे शहर के मां गोदावरी अस्पताल में भर्ती किया गया था। इलाज के दौरान डॉक्टर ने ऑपरेशन की सलाह दी और 20 हजार खर्च बताया। परिजनों ने 10 हजार दिए और शेष ऑपरेशन के बाद देने की बात कही। रात करीब 12 बजे मरीज का ऑपरेशन कर दिया गया।

शनिवार सुबह मरीज जब पेशाब के लिए बाथरूम में गया तो उसे पता चला कि उसका गुप्तांग कटा हुआ है। पेशाब करने में उसे खासा दिक्तत हुई। मरीज ने तत्काल इसकी जानकारी अपने परिजनों को दी। डॉक्टर द्वारा मरीज की ऑपरेशन के दौरान गुप्तांग काटने की जानकारी मिलते ही मां गोदावरी अस्पताल के कर्मी संचालक सहित डॉक्टर मौके से फरार हो गए।

पीड़ित और उसके परिजन ने मेदिनीनगर शहर थाना पहुंकर अस्पताल के संचालक एवं डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। थाना प्रभारी अभय कुमार सिन्हा ने बताया दर्ज शिकायत के आधार पर मामले की जांच की जा रही है। जो भी आरोपी होंगे, वह बख्शे नहीं जाएंगे। मेदिनीनगर शहर थाना में आवेदन देने के बाद पीड़ित मरीज को बेहतर इलाज के लिए मेदिनीनगर के एमआरएमसीएच में भर्ती कराया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here