– शराब के कारण एक माह पहले एमआर पति को छोड़ बेटे संग बिहार चली गई थी बीवी

हल्द्वानी, डीडीसी। हल्द्वानी के मुखानी थानाक्षेत्र स्थित रूपनगर छोटी मुखानी में बीवी के गम के मारे पति ने शराब पी-पीकर अपनी जान दे दी। एमआर की लाश सुबह उसके बिस्तर पर औंधे मुंह मिली और पास मिली शराब की आधी खाली बोतल।

मूलरूप से सीमा विलेज विहार बेगुसराय बिहार निवासी प्रकाश कुमार (46) पुत्र कृष्ण नंदा प्रताप पिछले 14 सालों से हल्द्वानी में रह रहे थे। प्रकाश पेशे से मेडिकल रिप्रेजेंटिव (एमआर) था और चरक फार्मा में कार्यरत था, लेकिन शराब उसकी कमजोरी थी।

रूपनगर में नीमा पलड़िया पत्नी नंदा वल्लभ पलड़िया के मकान में प्रकाश अपनी पत्नी नीरा कुमारी और 10वीं में पढ़ने वाले बेटे प्रियांशु नंदन के साथ रहता था। प्रकाश कमाई का ज्यादातर पैसा वह शराब में लुटा देता था और यही पत्नी से दूरी की वजह बन गई।

नीरा बेटे के साथ बिहार स्थित ससुराल चली गई। जिसके बाद प्रकाश ने खाना छोड़ दिया और शराब पहले से ज्यादा पीने लगा। बीते सोमवार को अचानक प्रकाश की तबीयत बिगड़ी तो मकान मालकिन ने नीरा को खबर की और एंबुलेंस को फोन कर बुलाया।

लेकिन प्रकाश ने बिना बीवी के अस्पताल जाने से इंकार कर दिया और शराब में डूब गया। मंगलवार को कमरे में बैठ कर पीता रहा। बुधवार देर तक जब प्रकाश नहीं उठा तो मकान मालकिन ने ऊपर जाकर देखा। दरवाजा अंदर से बंद था और प्रकाश बेसुध पड़ा था।

सूचना पर मुखानी थाने से एसआई संजय कुमार मौके पर पहुंचे। दरवाजा तोड़ कर प्रकाश को अस्पताल भेजा गया। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। एसआई संजय कुमार का कहना है कि मौत की सही वजह पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगी।

वहीं नीरा का कहना है कि बेटे का भविष्य बनाने और प्रकाश की शराबकी लत की वजह से वह बिहार गई। बिहार में उसे जमीन को लेकर कुछ काम था, ताकि इकलौते बेटे का भविष्य संवर सके, लेकिन पता नहीं था कि प्रकाश के साथ ऐसा हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here