– 3 दिन में तोड़े 10 ताले, 2 महीने पहले निकला था जेल से

हल्द्वानी, डीडीसी। 28 मकदमों वाले पिद्दा की औकाद सलाखों के पीछे है ओर हल्द्वानी पुलिस ने उसको वहीं पहुंचा दिया है। 2 महीने पहले जेल से छूटे इस पेशेवर चोर ने महज 3 दिन में 10 दुकानों के ताले तोड़ डाले और वो भी अकेले। शातिर की आदत थी, जेल से छूटते ही ताले तोड़ने में जुट जाना।

350 CCTV और 80 शातिरों से पूंछतांछ में मिले सुराग
एसएसपी पंकज भट्ट ने बताया कि 350 सीसीटीवी कैमरे खांगाले गए। 70 से 80 संदिग्धों व पुराने शातिरों से हुई पूछताछ में पुलिस के हाथ अहम सुराग लगे। मंगलवार को पुलिस टीम ने आरोपी चोर प्रमोद कुमार उर्फ पिद्दा निवासी दीना डी क्लास हल्दूचौड़ लालकुआ को कर्तव्य फैक्ट्री टीपीनगर के पास से गिरफ्तार कर लिया।

एसओजी और पुलिस ने दबोचा
पिद्दा के खिलाफ नैनीताल जिले में अब तक 28 अभियोग पंजीकृत किए जा चुके हैं। आरोपी के पास से दो अलग-अलग मामलों के 37 हजार रुपये और एक मोबाइल बरामद किया गया है। पुलिस टीम में कोतवाल हरेन्द्र चौधरी, मंडी चौकी प्रभारी विजय पाल सिंह, टीपीनगर चौकी प्रभारी मनोज कुमार, का. गणेश कुमार, मो. आकिल, जगदीश भारती, सुरेन्द्र सिंह, जितेन्द्र कुमार, विरेन्द्र चौहान, इसरार नवी, इसरार अहमद, वंशीधर जोशी व भगवान सिंह सैलाल थे।

इन थानों में दर्ज हैं इतने मुकदमे
लालकुआं में 12
हल्द्वानी में 10
काठगोदाम में एक
मुखानी में पांच

13 जनवरी को तीनपानी में तोड़े ताले
1. जीवन लाल की श्री साई डिजिटल फोटो स्टूडियो से ताला तोड़कर 1300 रुपये चोरी किए
2. तनूज सोनकर की मोबाइल रिपेयरिंग की दुकान से ताला तोड़कर 12700 रुपये चोरी किए
3. बबलू कश्यप की प्रिसं टेलर का दुकान से ताला तोड़कर 1100 रुपये चोरी किए
4. चम्पा मेहता की मां कालिका गृह उद्योग का ताला तोड़कर 16000 रुपये व अन्य सामान चोरी किए
5. कविता की डॉ. लाल पैथोलॉजी लैब का ताला तोड़कर 6500 रुपये चोरी किए

16 जनवरी को डहरिया में तोड़े ताले
1. दिलीप रावत की महालक्ष्मी इन्टरप्राइजेज का तालातोड़कर 5000 रुपये व मोबाइल चोरी किया
2. तारा सिंह राणा की मेटलिंग मुवमेन्ट बेकरी से ताला तोड़कर 3000 रुपये व पर्स चोरी किया
3. नीरज आर्या की दुकान जय मां ट्रैडर्स का ताला तोड़ा
4. देवीदत्त सनवाल की जय मां बाराही की दुकान का ताला तोड़ा
5. ललित मिगलानी की फास्ट फूड की दुकान में भी ताला तोड़ा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here