– 6 साल तक के बच्चों को बेफिक्र छोड़ कर स्नान कर पाएंगी महिलाएं

हरिद्वार, डीडीसी। आपने अक्सर पुरानी हिंदी फिल्मों में दो भाइयों को कुंभ के मेले में बिछड़ते देखा होगा और फिर जवानी में किसी शरीर पर बने किसी खास निशान की वजह से मिलते भी देखा होगा। इस मिलने-बिछड़ने के खेल में मां बेचारी बूढ़ी हो जाती है। उसकी ममता बच्चों के लिए तरस जाती है, लेकिन यकीन मानिए अब कुंभ में ऐसा कुछ नही होगा। अब कोई भी बच्चा अपनी मां से नही बिछड़ेगा, क्योंकि कुंभ में इसकी पूरी तैयारी की जा रही है। तो अब अगर आप अपने छोटे बच्चे की चिंता को लेकर कुंभ स्नान के लिए नही जा पा रहे हैं तो चिंता को घर छोड़िए और आइए हरिद्वार के घाट पर गंगा स्नान करते हैं।

सहायता केंद्र रखेगा आपके नन्हे-मुन्ने का ख्याल
ये व्यवस्था खास तौर पर महिलाओं और बच्चे अपनो से ना बिछड़े इसलिए की गई है। इस केंद्र को कुंभ में महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग लगाने जा रहा है। व्यवस्था के तहत मेला क्षेत्र में एक सहायता केंद्र बनाया जाएगा। अभिभावक इस सहायता केंद्र में अपने 6 वर्ष तक के बच्चों को रख सकते हैं। जिसके बाद वह निश्चिंत होकर स्नान कर पाएंगे। इस दौरान केंद्र में मौजूद लोग आपके बच्चे का पूरा ख्याल रखेंगे और उनके लिए पौष्टिक भोजन की व्यवस्था भी व्यवस्था करेंगे।

मेला अधिकारी को सौंपा केंद्र के लिए पत्र
महिला कल्याण विभाग के जिला प्रोबेशन अधिकारी अविनाश सिंह भदौरिया व महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम समन्वयक दुर्गा चमोली ने मेला में केंद्र स्थापित करने के लिए मेलाधिकारी दीपक रावत से मुलाकात की और उन्हें केंद्र स्थापित करने के लिए स्थान उपलब्ध कराने हेतु आवेदन पत्र सौंपा। मेला अधिकारी ने भी इस व्यवस्था की प्रसंशा की और भरोसा दिलाया कि उन्हें हर सम्भव मदद की जाएगी।

केंद्र में होंगे कई भाषाओं के जानकार
केंद्र में कई भाषाओं जैसे- कन्नड़, मलयालम, गुजराती आदि को जानने वाले स्वयंसेवक भी होंगे। ये सिर्फ इसलिए किया जा रहा है, ताकि कुंभ में आने वालों को भाषा संबंधित दिक्कतों का सामना न करना पड़े। आपको बता दें कि कुंभ में पूरे देश से लोग स्नान करने हरिद्वार पहुंचते है, जो अलग-अलग भाषा क्षेत्रों से होते है। मेलाधिकारी ने इस योजना की प्रशंसा की तथा अधिकारियों को केंद्र स्थापित करने हेतु स्थान तथा फर्नीचर आदि की सुविधायें उपलब्ध कराने का पूरा भरोसा दिलाया।

कार्यों का निरीक्षण, मलबा उठाने के आदेश
मेलाधिकारी दीपक रावत ने गुरुवार को कुंभ की तैयारियों की दृष्टि से रोड़ीबेलवाला क्षेत्र का निरीक्षण किया। उन्होंने रोड़ी बेलवाला क्षेत्र में निर्माण कार्यों को देखा तथा रामायण पथ के निकट रखे मलबे को यथाशीघ्र हटवाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। रोड़ीबेलवाला क्षेत्र स्थित पर्यटन गेस्ट हाउस के निकट लगाए फुट ऑपरेटेड पानी के नल को ऑपरेट करके देखा। इसके पश्चात उन्होंने रोड़ीबेलवाला क्षेत्र में स्थापित थाने का निरीक्षण किया। जहां उन्होंने टेंट, पीने के पानी की स्थिति, स्टोर रूम, मेस, शौचालय, सीवर सेफ्टी टैंक तथा उनकी क्षमता आदि के संबंध में अधिकारियों से जानकारी ली।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here