– हल्द्वानी के जीतपुरनेगी में रात फांसी लगा कर पति ने जान दे दी

हल्द्वानी, डीडीसी। मायके गई पत्नी को विदा कराने गया था, लेकिन पत्नी साथ नही लौटी। हुआ ये कि पति नाराज हो कर घर लौट आया और फिर ऐसा खौफनाक कदम उठाया कि अब पत्नी के पास पछताने के सिवा कुछ नही बचा। आज पति की लाश उसी के घर में लगी बल्ली से लटकती मिली। पुलिस ने शव को फंदे से उतार कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और पता लगाने की कोशिश कर रही है कि ऐसी क्या वजह थी जो पत्नी मायके से वापस नही लौटना चाहती थी। मामला उत्तराखंड में नैनीताल जिले के हल्द्वानी शहर का है।

पत्नी के दुपट्टे को बनाया फांसी का फंदा
मूलरूप से उत्तर प्रदेश का रहने वाला अखिलेश कश्यप हल्द्वानी रामपुर रोड स्थित जीतपुर नेगी में रहता है। उसके दो बच्चे है और ससुराल उत्तर प्रदेश में ही है। कल वह ससुराल से बिना पत्नी के लौटा और रात ही पत्नी के दुपट्टे को फांसी का फंदा बना कर जान दे दी। जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त घर मे कोई नही था।

मां ने देखा तो हलक में अटक गई आवाज
जवान बेटे अखिलेश की लाश को सबसे पहले उसकी मां ने देखा। हुआ यूं कि शुक्रवार सुबह परिजन अपने-अपने काम पर चले गये। मां और बहन भी घर पर नही थीं। थोड़ी देर में वह लौटे तो अखिलेश की लाश दुपट्टे के सहारे बल्ली से लटक रही थी। यह देख मां की आवाज तो हलक में अटक कर रह गई। जबकि बहन चीखते हुए बाहर की ओर दौड़ी। अखिलेश के पिता कन्हैया लाल रामपुर रोड देवलचौड़ में खाने का ठेला लगाते हैं।

बीवी उठाएगी मौत के रहस्य से पर्दा
क्या मौत की वजह बीवी का मायके से न लौटना है या फिर कुछ और। आखिर क्या वजह थी कि बीवी अपने पति के साथ वापस ससुराल नही आई। इस बात का अखिलेश के माता-पिता और बहन के पास कोई जवाब नही है और न ही पुलिस कुछ बता पा रही है। अखिलेश की मौत की खबर उसकी पत्नी को दी गई। पुलिस का कहना है कि मामले में पत्नी से पूछताछ के बाद ही मौत का सच सामने आएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here