– प्रेमी के साथ कमरे के पकड़े जाने के बाद दिया वारदात को अंजाम

दिल्ली, डीडीसी। राजधानी में पुलिस ने एक सनसनीखेज हत्याकांड का खुलासा किया है। न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी थाने की पुलिस टीम ने युवक की हत्या के मामले में पत्नी, सास समेत 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। इसके अलावा हत्या में इस्तेमाल किया गया एक चाकू, मृतक का मोबाइल फोन, हत्या के बाद शव को ठिकाने लगाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला ऑटो और आरोपी व्यक्तियों के खून के धब्बे वाले कपड़े बरामद किए गए हैं।

10 अगस्त को मिली थी सड़ी लाश
पुलिस को 10 अगस्त को न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी में सुखदेव विहार के पास नाले में पड़े सूटकेस में लाश पड़े होने की सूचना मिली थी। गंदे नाले के अंदर काले रंग के ट्रॉली बैग में एक क्षत-विक्षत शव मिला था। चेहरा सड़ने के कारण पहचाना नहीं जा सका। शव के दाहिने हाथ पर ‘नवीन’ के रूप में एक टैटू का निशान मिला है। मृतक के दाहिने हाथ में स्टील का कड़ा भी पहन रखा था।

कत्ल किया, गुमशुदगी लिखाई और चुपचाप खाली कर दिया घर
पुलिस को जांच में पता चला कि मुस्कान नाम की महिला ने नवीन के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी। गुमशुदगी रिपोर्ट के आधार पर पुलिस को भनक लग गई थी कि गुमशुदा युवक का ही शव बरामद हुआ है। हालांकि, अभी इसकी पुष्टि नहीं हो पाई थी। इसके बाद पुलिस महिला के लिखे पते पर पहुंची। यहां पता चला कि वह कुछ दिन पहले ही कमरा खाली करके चली गई है। पुलिस ने जब मकान मालिक से पूछा तो उसने बताया कि महिला बिना जानकारी दिए अचानक कहीं चली गई है।

साथ रहती थी मां और 2 साल की बेटी
पड़ोसी ने पुलिस को बताया कि मुस्कान अपनी मां और दो साल की बेटी के साथ किराए के कमरे में रहती थी। उसके यहां एक लड़का भी आता था, लेकिन उसका किसी को नाम नहीं पता था। पूछताछ में पता चला कि किराए के कमरे से निकलने से एक रात पहले मुस्कान के कमरे में मारपीट हुई थी। पुलिस ने यहीं से मुस्कान का मोबाइल नंबर लिया।

और पीछे-पीछे खानपुर पहुंच गई पुलिस
लोकेशन पता करके पुलिस दिल्ली के खानपुर पहुंची। यहां मुस्कान अपनी मां मीनू और 2 साल की बेटी के साथ रह रही थी। इसके बाद पुलिस ने मुस्कान से उसके पति के हाथ में नवीन के टैटू के बारे में पूछा। शुरुआत में उसने इससे इनकार कर दिया, लेकिन जब उसके फोन में नवीन की फोटो देखी गईं तो यह साफ हो गया कि नवीन के दाहिने हाथ पर टैटू था। बाद में नवीन के भाई ने भी इसकी पुष्टि की।

मुस्कान ने सुनाई मनघडंत कहानी
पूछताछ में मुस्कान ने बताया कि नवीन दिल्ली के दक्षिण पुरी का रहने वाला था। वह पिछले 4-5 साल से नवीन के साथ रिलेशनशिप में थी। इस रिश्ते से उन्हें 2 साल की बेटी भी है। पिछले 7 महीनों से वे अलग रह रहे थे। 7 अगस्त को नवीन रात 11 बजे नशे में उसके कमरे में आया। उसके साथ मारपीट की। वह घायल हो गई। इसके बाद उसने पीसीआर कॉल की। वह एम्स ट्रॉमा गई। जब रात में लौटी तो नवीन घर पर नहीं था। इसके बाद उसने गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

जमाल था नवीन के कत्ल की असल वजह
जब पुलिस ने जांच की तो पता चला कि वह एक नंबर से लगातार संपर्क में थी। पुलिस ने जब दोबारा नंबर की जांच कर कड़ाई से मुस्कान से पूछताछ की तो उसने बताया कि वह अपने दोस्त जमाल से बात कर रही थी। जमाल की लोकेशन जब देखी गई तो पता चला कि 7 अगस्त को जमाल मुस्कान के कमरे पर आया था। बाद में वह 8 अगस्त को उस जगह भी गया था, जहां नवीन का शव का मिला।

जमाल और मुस्कान को कमरे में भड़क था नवीन
पुलिस पूछताछ में मुस्कान ने बताया कि वह 7 अगस्त को अपने कमरे पर जमाल के साथ थी। तभी नवीन वहां आ गया। जमाल को देखकर नवीन नाराज हो गया। उसने मुस्कान के साथ मारपीट की। इसके बाद जमाल के दो साथी विवेक और कौशलेंद्र भी वहां आ गए। इसके बाद जमाल ने कौशलेंद्र और विवेक के साथ मिलकर नवीन की हत्या कर दी।

कोशिश की, लेकिन मिटा नही पाए सुबूत
हत्या के बाद जमाल ने नवीन के शव को वॉशरूम में धोया। उसने कमरे से खून साफ किया। जमाल ने सुबह अपने दोस्त राजपाल को भी बुलाया। सभी ने मिलकर शव को ट्रॉली बैग लेकर नाले में फेंक दिया और अपने खून से सने कपड़े भी नाले में फेंक दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here