– आईटी कंपनी में काम करने वाली गुजरात की मुस्लिम महिला ने उठाया साहसी कदम

अहमदाबाद, डीडीसी। शादी से पहले जब गलबहियां करके घूमता था तब एतराज नही था। तब तो उसके जैसी हूर कोई नही थी, लेकिन शादी के साल बीते और पति का प्यार गुजरते साल के साथ कम होने लगा। उसे तो अब बीवी का जींस पहनना भी पसंद नही था। जींस पहनने पर वो तलाक की धमकी देने लगा था, लेकिन इस साहसी मुस्लिम महिला ने पति को जवाब दिया और उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करा दिया। मामला गुजरात के अहमदाबाद का है और पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

पत्नी नही, हर लड़की को देता है गाली
अहमदाबाद के वेजलपुर इलाके में रहने वाली पीड़ित महिला का कहना है कि उसका पति उसे जींस नहीं पहनने देता है और जो लड़की जींस पहनती हैं, उन्हें अपशब्द कहता है। महिला ने ना सिर्फ अपने पति बल्कि ससुराल वालों के खिलाफ मानसिक और शारीरिक शोषण का आरोप लगाया है। महिला ने अपनी शिकायत में यह भी कहा है कि जब वो जीन्स पहनकर नौकरी के लिए जाती है तो घरवाले उसे तलाक देने की धमकी देते थे।

महिला की दूसरी, पति की तीसरी शादी
37 साल की मुस्लिम महिला की शादी दो साल पहले हुए थी। महिला की यह दूसरी शादी है, जबकि उसके पति की यह तीसरी शादी है। महिला ने शादी से पहले ही पति के साथ अकेले रहने की बात कही थी। पति इस पर साथ था। दो साल तक तो दोनों खुश भी थे।

ससुरालियों को नही पसन्द थे मॉर्डन कपड़े
बाद में महिला के पति ने उसे ससुराल में रहने और मॉर्डन कपड़े ना पहने की बात को लेकर दबाव बनाना शुरू कर दिया। जब महिला ने बात नहीं मानी तो उसे तलाक की धमकी देने लगा। इसके अलावा महिला का पति उस पर नौकरी छोड़ने का भी दबाव बना रहा था। इस बात से भी धमकाया जाता था की वो अपने मायके वालों के साथ रिश्ता क्यूं रखती हैं।

दे रहा था चौथी शादी की धमकी
महिला को पति के जरिए ये भी धमकी दी जाती थी कि अगर उसने जीन्स पहना या कहीं गयी तो वो उसे तलाक देकर चौथी शादी कर लेगा। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here