– छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में नाबालिग बेटे ने दिल दहला देने वाली वारदात को अंजाम दिया

अंबिकापुर, डीडीसी। छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर जिले में एक नाबालिग ने अपने माता-पिता की बेरहमी से हत्या कर दी। वारदात को अंजाम देने के बाद बेरहम बेटे ने घर में ही दोनों को दफना दिया और फिर माता-पिता की कब्र पर खाना पका कर खाया। घटना उदयपुर थाना के अंतर्गत ग्राम खोंधला टिकरापारा की है। शनिवार सुबह पुलिस और फॉरेंसिक विभाग की टीम मौके पर पहुंची और जांच शुरू की।

पुलिस ने नाबालिग आरोपी की निशानदेही पर जमीन में गड़े शवों को निकाला। उन्होंने बताया कि इस घर में 50 वर्षीय जयराम सिंह अपनी 45 वर्षीय पत्नी फुलसुंदरी बाई और दो बेटों के साथ रहते थे। उनका बड़ा बेटा काम के सिलसिले में घर से बाहर गया हुआ था। इस दौरान माता-पिता की छोटे बेटे से किसी बात को लेकर बहस हुई। यह बहस इस हद तक बढ़ गई कि बेटे ने धारदार कृषि उपकरण बंसूला से दोनों को मौत के घाट उतार दिया।

इसके बाद उसने घर के एक कमरे में दोनों के शवों को दफना दिया। यही नहीं, उसी जगह उस नाबालिग बेटे ने खाना भी बनाया और खाया भी। घटना की भनक जब नाबालिग के जीजा को लगी तो उन्होंने फौरन इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर मृतकों के शव निकाले और पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिए। वहीं, नाबालिग बेटे को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

एसडीओपी उदयपुर अखिलेश कौशिक ने बताया कि उन्हें मृतकों के दामाद ने इस बारे में जानकारी दी। फिलहाल आरोपी नाबालिग के पूछताछ की जा रही है। पूछताछ के दौरान ऐसा लग रहा है कि लड़का मानसिक रूप से कमजोर है। उसने गुस्से में आकर घटना को अंजाम दिया है। उधर, मृतकों के बड़े बेटे ने बताया कि वह घटना के दिन घर पर नहीं था। उसे भी इसकी जानकारी फोन पर जीजा ने दी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here