– धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी पर दिया गया वारदात को अंजाम

सिंघु बॉर्डर, डीडीसी। दिल्ली से सटे सिंघु बॉर्डर पर किसानों के प्रदर्शन स्थल के पास से एक व्यक्ति का हाथ कटा शव मिला है। उक्त व्यक्ति को मारकर उसके शव को बैरिकेडिंग से लटका दिया गया था और उसके कटे हाथ को भी बेरिकेडिंग से लटका दिया गया। शव मिलने की जानकारी मिलते ही कुंडली थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और बैरिकेडिंग से शव को उतारा। इसके बाद पुलिस शव को पास के सिविल हॉस्पिटल लेकर गई।

वीडियो के लिए डाकिया का लिंक खोलें

https://m.facebook.com/story.php?story_fbid=293756505913868&id=107080761248111

धारदार हथियार से काट कर की गई हत्या
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन के पास निहंग सिखों ने कथित तौर पर एक युवक की हत्या कर दी। हत्या के बाद तलवार जैसे धारदार हथियार से उसका बायां हाथ काट दिया। युवक के गर्दन सहित शरीर के कई जगहों पर भी हमला किया गया। हत्या के बाद उसके शव को संयुक्त किसान मोर्चा के मुख्य टेंट के पास लगे एक बैरिकेडिंग से लटका दिया गया।

आंदोनकरियों ने रोका पुलिस का रास्ता
कहा जा रहा है कि मृतक शख्स ने सिखों के पवित्र धर्म ग्रंथ गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की। जिसके बाद निहंग सिखों ने बेरहमी से उसकी हत्या कर दी। आंदोलन स्थल पर एक लटका हुए शव मिलने की जानकारी मिलते ही कुंडली थाने की पुलिस मौके पर पहुंच गई। शुरू में आंदोलनकारियों ने पुलिस को घटनास्थल पर जाने से रोका, लेकिन बाद में भारी हंगामे के बावजूद पुलिस ने लाश को बैरिकेडिंग से उतारा और शव के परीक्षण के लिए पास के सिविल असपताल ले गई।

हत्यारों ने पैर काटने की भी कोशिश की
इस मामले में सोनीपत के डीएसपी हंसराज ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि आज 5 बजे कुंडली थाने को सूचना मिली कि किसानों के प्रदर्शन स्थल पर बने स्टेज के पास एक व्यक्ति का हाथ-पैर काटकर लटकाया हुआ है। जिसके बाद पुलिस मौके पर गई और पाया कि हाथ पांव काट रखे एक शख्स की डेड बॉडी बैरीकेडिंग से लटकी हुई है। पुलिस ने इस दौरान वहां मौजूद कुछ लोगों से पूछताछ की, लेकिन कुछ भी खुलासा नहीं हो पाया। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है और जांच जारी है।

निहंग समूह ने ली हत्या की जिम्मेदारी
वहीं इस मामले को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी कर हत्या की निंदा करते हुए दोषियों को सजा देने की मांग की है। संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि शुक्रवार सुबह सिंधु मोर्चा पर पंजाब के तरनतारन जिले के रहने वाले एक व्यक्ति लखबीर सिंह का अंग भंग कर उसकी हत्या कर दी गई। इस घटना की जिम्मेदारी एक निहंग समूह ने ली है और यह कहा है कि ग्रंथ की बेअदबी करने की कोशिश के कारण ऐसा किया गया। साथ ही उन्होंने कहा कि मृतक उसी समूह के साथ पिछले कुछ समय से रह रहा था।

संयुक्त किसान मोर्चा ने काटा किनारा
आगे संयुक्त किसान मोर्चा ने हत्या की निंदा करते हुए कहा कि इस घटना के दोनों पक्षों निहंग समूह या मृतक व्यक्ति का संयुक्त किसान मोर्चा से कोई संबंध नहीं है। हम किसी भी धार्मिक ग्रंथ या प्रतीक की बेअदबी के खिलाफ हैं। लेकिन इस आधार पर किसी भी व्यक्ति या समूह को कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं है। हम यह मांग करते हैं कि इस हत्या और बेअदबी के षड़यंत्र के आरोप की जांच कर दोषियों को कानून के मुताबिक सजा दी जाए। आगे उन्होंने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा किसी भी कानून सम्मत कार्यवाही में पुलिस और प्रशासन का सहयोग करेगा। लोकतांत्रिक और शांतिमय तरीके से चला यह आंदोलन किसी भी हिंसा का विरोध करता है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here