– CM ने समाप्त की कुंभ में श्रद्धालुओं के लिए कोरोना निगेटिव रिपोर्ट की अनिवार्यता

हरिद्वार, डीडीसी। कुंभ स्नान के लिए भक्तों पर लगी बंदिशों को उत्तराखंड सरकार ने हटा लिया है। उत्तराखंड ( Uttarakhand) के मुख्यमंत्री तीरथ रावत (CM Tirath Rawat ) ने कुंभ मेले में शामिल होने के लिए कोविड संक्रमण रिपोर्ट की अनिवार्यता को खत्म कर दिया है। कहा कि कुंभ मेले ( Kumbh Mela) में आने वालों को कोविड-19 की निगेटिव रिपोर्ट लाना जरूरी नहीं है। जबकि पहले ऐसा नहीं था। पहले हरिद्वार कुंभ आने से पहले भक्तों को कोविड की निगेटिव रिपोर्ट जरूरी होती थी। इस रिपोर्ट को पोर्टल पर अपलोड करना होता था। जिसके बाद भक्तों को मोबाइल पर पास जारी किया जाता था। हालांकि उत्तराखंड सरकार ने इस झंझट से भक्तों को अब मुक्ति दे दी है। उक्त बातें मुख्यमंत्री ने रविवार को मदन मोहन मालवीय आडिटोरियम में आयोजित नेत्र कुंभ के उद्घाटन कार्यक्रम के बाद कहीं।

लाखों लोग आएंगे, किस-किस की जांच होगी
उन्होंने कहा कि कुंभ में लाखों लोग आएंगे, किस-किस की जांच की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि अखाड़ों की झांकियां होंगी और इन्हें कोई देखने वाला नहीं है तो क्या मजा है? इसलिए कुंभ में बड़ी संख्या में लोग आएं. रोक-टोक नहीं होनी चाहिए। सबको आने देना चाहिए। तीरथ रावत ने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद मैंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि हेलीकॉप्टर से फूल वर्षा होनी चाहिए। साधु-संत और व्यापारी बहुत खुश हैं। लाखों की संख्या में लोग आएंगे तो उनका कारोबार भी चलेगा। सरकार जनता को खुश करने के लिए है, दुखी करने के लिए नहीं।

देश और दुनिया का है कुंभ
कुंभ 12 साल में एक बार आता है। यह केवल प्रदेश ही नहीं देश और दुनिया का कुंभ है। ऐसा वातावरण नहीं होना चाहिए कि लोग कुंभ में आने से वंचित हो जाएं। सीएम ने कहा कि कुंभ से आस्था और भावनाएं जुड़ीं हैं। इसलिए कोविड-19 महामारी की रोकथाम से संबंधित गाइडलाइन का पालन करते हुए सभी लोगों को कुंभ में बेरोकटोक आने की इजाजत होनी चाहिए।

नियम का पालन करें, हम असुविधा नही होने देंगे : सीएम
मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि कुंभ के आयोजना को भव्य बनाने के लिए हमारी सरकार प्रतिबद्ध है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां आने वाले श्रद्धालुओं को कोविड की गाइडलाइन का भी पालन करना है, लेकिन किसी तरह की असुविधा नहीं होने दी जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की कार्यशैली से लॉकडाउन में भी लोगों का ध्यान सरकार ने रखा है। हमें किसी को कुंभ में स्नान से वंचित नहीं रखना है। बस श्रद्धालुओं को मास्क और सोशल डिस्टेंस के साथ पहुंचना है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here