– रोजाना 3 हजार से ज्यादा संक्रमित और 2 दर्जन से ज्यादा की मौत

देहरादून, डीडीसी। रोज 3 हजार से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित हो रहे हैं और 2 दर्जन से ज्यादा लोगों की मौत हो रही है। ये हालत पिछले एक हफ्ते से लगातार बनी हुई है। राज्य में गुजरते दिनों के साथ कोरोना संक्रमण और बढ़ रहा है। कोरोना काबू करने के लिए कर्फ्यू लगाया तो जा रहा है, लेकिन सब नाकाफी साबित हो रहा है। कोरोना काबू करने का आखिरी हथियार सम्पूर्ण लॉकडाउन है और माना जा रहा कि अब उत्तराखंड में भी लॉकडाउन लगाया जा सकता है। इस पर तीरथ सिंह रावत सरकार आज यानि सोमवार शाम कैबिनेट की प्रस्तावित बैठक में फैसला लेगी।

कोविड और नाइट कर्फ्यू भी काम नही आया
कोरोना के बढ़ते संक्रमण पर लगाम लगाने के लिए सरकार ने कोविड कर्फ्यू और नाइट कर्फ्यू भी लागू किया था, लेकिन फिर भी कोरोना केसों में कमी नहीं आई। मैदानी जिलों के साथ ही पहाड़ में जिस तेजी के साथ कोरोना फैल रहा है, उससे सरकार भी सकते में है। मैदानी क्षेत्रों के अस्पतालों में जहां मरीजों को आसानी से बेड नहीं मिल पा रहे हैं, वहीं पर्वतीय क्षेत्रों में स्वास्थ्य व्यवस्था की बदहाल हालत किसी से छिपी नही है। ऐसे में कोरोना को काबू करना बहुत बड़ी चुनौती है और सरकार विकल्प सिर्फ लॉकडाउन ही नजर आ रहा है।

जिले की सीमा लांघने पर जरूरी होगी RTPCR
सूत्रों की मानें तो कैबिनेट राज्य में एक जिले से दूसरे जिले में आवाजाही पर सभी के लिए आरटीपीसी नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर सकती है। फिलहाल अभी सिर्फ विभिन्न प्रदेशों से राज्य में आने वाले लोगों पर यह व्यवस्था लागू है, लेकिन जिस तरह से कोरोना राज्य में बेकाबू है उसे देखते हुए बैठक में कई कड़े फैसले लिए जा सकते हैं। अगर लॉकडाउन नही लगा तो RTPCR रिपोर्ट को अनिवार्य किया जा सकता है।

रविवार को आंकड़ा 51 हजार के पार हुआ
रविवार को एक बार फिर राज्य में 4368 नए मरीज मिले। इसके साथ ही राज्य में कुल मरीजों का आंकड़ा एक लाख 51 हजार को पार कर गया है। एक्टिव मरीजों का आंकड़ा 35800 के पार पहुंच गया। रविवार को देहरादून जिले में सर्वाधिक 1670 नए मरीज मिले। जबकि हरिद्वार जिले में ये संख्या 1144 रही और राज्य में 44 लोगाें की जान गई। कोरोना संक्रमण से जान गंवाने वालों की कुल संख्या 2146 हो गई है।

रविवार को इन जिलों में इतने मिले पॉजिटिव
अल्मोड़ा में 42
बागेश्वर में 46
चमोली में 43
चंपावत में 100
नैनीताल में 438
पौड़ी में 390
पिथौरागढ़ में 72
रुद्रप्रयाग में 64
टिहरी 110
यूएसनगर में 200
उत्तरकाशी में 49

रिकवरी दर घट कर 72 फीसद पर पहुंची
चिंता की बात है कि प्रदेश में रिकवरी दर घटकर 72 फीसदी पहुंच गई है। जबकि रविवार को राज्य में कंटेनमेंट जोन की संख्या 163 पहुंच चुकी है। इसमें से 60 तो सिर्फ देहरादून और 41 नैनीताल में हैं। रविवार को राज्य के सभी जिलों से कुल 33 हजार से अधिक सैंपल जांच के लिए भेजे गए।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here