– हल्द्वानी में दिया बच्चे को जन्म, लोहाघाट में दर्ज हुआ मुकदमा

चम्पावत, डीडीसी। बहन के ससुराल आई नाबालिग साली को अपने ही जीजा से मोहब्बत हो गई। जीजा के प्रेमजाल में फंसी साली को जीजा ने हवस का शिकार बना डाला। ऐसा कई बार हुआ और साली गर्भवती हो गई। कच्ची उम्र में उसने एक बच्चे को जन्म दिया, लेकिन इससे पहले ही जीजा फरार हो गया। इस मामले में अब मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। फरार जीजा की तलाश में दबिशें जारी हैं। मामला उत्तराखंड में चम्पावत जिले के लोहाघाट थाना इलाके की है।

बड़ी बहन का देवर है फरार आरोपी
इस मामले में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 376 के साथ पोस्को एक्ट भी लगाया है। यानी आरोप सिद्ध होने पर जीजा लंबे टाइम के लिए अंदर जाएगा। लोहाघाट पुलिस की माने तो आरोपी चमनपुरा पऊ निवासी रोहित पुत्र शिवराज राम है। विजय रिश्ते में पीड़िता की बड़ी बहन का देवर है।

लॉक डाउन में गर्भवती बहन की सेवा करने आई थी
दरअसल पूरे मामले की शुरुआत लॉक डाउन के साथ हुई थी। पीड़िता की बहन गर्भवती थी और डॉक्टर ने उसे काम कम करने की सलाह दी थी। ऐसे में गर्भवती बहन ने अपनी सेवा और ससुराल के काम मे हाथ बटाने के लिए उसे अपने पास बुला लिया था और फिर यहीं से कहानी की शुरुआत हो गई।

तन्हाई में बिछाया प्रेम का जाल
पीड़िता की बड़ी बहन की ससुराल में आरोपी रोहित भी रहता है और रोहित पीड़िता की बहन का देवर है। इस नाते आरोपी भी पीड़िता का जीजा हुआ। जीजा साली के इस मजाक वाले रिश्ते को रोहित ने चारे की तरह इस्तेमाल किया। लॉक डाउन में घर से बाहर निकलने पर पाबंदी थी और दोनों लगातार एक छत के नीचे थे। रोहित ने चारा डाला और नाबालिग साली उसे प्रेमजाल में फंस गई। रोहित ने कई बार उसके साथ संबंध बनाए और वो गर्भवती हो गई।

दिसम्बर में दिया बच्चे को जन्म
लॉक डाउन की शुरुआत में ही पीड़िता गर्भवती हो गई थी, लेकिन वो समझ नही पाई और जब समझ आया तो देर हो चुकी थी। बावजूद इसके पीड़िता ने लोक लाज की वजह से जुबान बंद रखी, लेकिन लगातार हो रहे शारीरिक परिवर्तन ने राज खोल दिया। अब तक बहुत अधिक देर हो चुकी थी। बीते साल दिसम्बर में उसे हल्द्वानी के सुशील तिवारी राजकीय चिकित्सालय में एक बच्चे को जन्म दिया।

चाइल्ड लाइन ने लिखाया मुकदमा
नाबालिग ने गत माह एक बच्चे को जन्म दिया है। फिलहाल ये बच्चा पीड़िता के रिश्तेदार पाल रहे हैं। इस मामले में आरोपी के खिलाफ परिजनों ने कोई कड़ा कदम नही उठाया। जिसके बाद चाइल्ड हेल्प लाइन समन्वयक आगे आए और घटना की तहरीर पुलिस को सौंपी है। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ पास्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

जल्द गिरफ्तारी का भरोसा
आरोपित फिलहाल फरार चल रहा है। शुक्रवार को चाइल्ड हेल्प लाइन की समंवयक संतोषी ने लोहाघाट थाने में तहरीर सौंपी। जांच एसआई मंदाकिनी राणा कर रही हैं। थानाध्यक्ष मनीष खत्री ने बताया कि आरोपी के खिलाफ साक्ष्य एकत्र किए जा रहे है और जल्द गिरफ्तारी की जाएगी। इसके लिए दबिशें दी जा रही हैं।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here