– हल्द्वानी में दो ग्राहकों के साथ मिलीं पश्चिम बंगाल, गुड़गांव और दिल्ली की लड़कियां, संचालक गिरफ्तार

हल्द्वानी, डीडीसी। हल्द्वानी के मून लाइन स्पा सेंटर में स्पा के अलावा सब होता था। यहां व्हाट्सएप पर लड़कियों की बुकिंग की जाती थी और ग्राहकों से बदले में ऑन लाइन भुगतान कराया जाता था। पश्चिम बंगाल, गुड़गांव और दिल्ली की लड़कियों के साथ पुलिस ने दो ग्राहक और स्पा सेंटर के संचालक को गिरफ्तार किया है।

सीओ ट्रैफिक विभा दीक्षित ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग सेल को लंबे समये से कमलुवागांजा रोड स्थित हनुमान मंदिर के पास चल रहे मून लाइट स्पा सेंटर में सेक्स रैकेट की खबर मिल रही थी। जिस पर शनिवार शाम महिला सेल प्रभारी लता बिष्ट, कांस्टेबल ऋतु चंदोला और दिगंबर खाती ने स्पा सेंटर में छापेमारी कर दी।

स्पा सेंटर से पुलिस ने दो ग्राहक के साथ लड़कियों को रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। पुलिस को मौके पर तमाम आपत्तिजनक सामग्री भी मिली है। पकड़ी गई महिलाओं में एक दिल्ली, दूसरी पश्चिमबंगाल और तीसरी गुड़गांव की है। महिलाओं में एक को उसके पति ने छोड़ दिया है, दूसरी विधवा है और तीसरी तलाकशुदा है।

गिरफ्तार स्पा सेंटर के संचालक लामाचौड़ निवासी कैलाश भंडारी ने स्पा को लीज पर ले रखा था। गिरफ्तार ग्राहकों में गौलापार निवासी उमेश जोशी और बेस हॉस्पिटल के पास रहने वाला उमेश जोशी है। इनके पास से पुलिस को 5920 रुपए भी मिले हैं। संचालक कैलाश व्हाट्सएप के जरिये ग्राहकों की बुकिंग करता था। जबकि महिलाओं को 10 हजार वेतन के साथ काम के हिसाब से अतिरिक्त भुगतान भी करता था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here