– छत्तीसगढ़ में दिल दहला देनी वाली वारदात को अंजाम देने वाली मां-बेटी हिरासत में

कोरिया, डीडीसी। छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के कोरिया (Koria) जिले के बैकुंठपुर में क्रूरतापूर्ण ढंग से की गई हत्या (Murder) के एक सनसनीखेज मामले का खुलासा हुआ है। पुलिस (Police) का दावा है कि शादी से इंकार करने पर एक लड़की और उसकी मां ने एक लड़के को जिंदा जला कर मार डाला। हालांकि अस्पताल ले जाने तक उसमें जान थी, लेकिन वो देर तक जिंदा नहीं रह पाया।

8 दिन तक किया मौत से संघर्ष और…
जिले के बैकुंठपुर के तलवापारा में बीते 18 अगस्त को वेदप्रकाश गंभीर रूप से जले हुए हालत में मिला। उसे जिला अस्पताल बैकुंठपुर लाया गया था। हालत गम्भीर होने से उसे रायपुर रेफर कर दिया गया, जहां कालड़ा बर्न हॉस्पिटल में इलाज दौरान 26 अगस्त को लड़के की मौत हो गई है।

पेट्रोल डाल कर जिंदा जलाया
रायपुर से लौटने के बाद मृतक के परिजनों ने थाना कोतवाली बैकुंठपुर को सूचना दी कि वेदप्रकाश की मौत पूजा प्रधान और उसके मां के द्वारा पेट्रोल डालकर आग लगाने से हुई है। इसके बाद थाना कोतवाली टीम ने थाना राजेन्द्र नगर रायपुर से मर्ग डायरी मंगाई। डायरी के अनुसार युवक अपने मरणासन्न कथन में बताया था कि पूजा प्रधान से उसकी पहले से दोस्ती थी। घटना के दिन पूजा नेे लड़के को घर बुलाया और घर पर उसकी मां भी थी। दोनों ने मृतक से शादी करने का दबाव डाला और ब्लैकमेल कर पैसे की मांग की।

मरने से पहले मां-बेटी के खिलाफ दिया बयान
युवक के बयान के मुताबिक उसके द्वारा शादी से मना करने पर पूजा और उसकी मां ने पेट्रोल डालकर आग लगा दी। पुलिस ने धारा 302, 384 आईपीसी के तहत अपराध दर्ज कर वरिष्ठ अधिकारियों को जानकारी दी। थाना बैकुंठपुर टीम ने आरोपियों के पता तलाश करने हेतु टीम गठित की एवं उनके घर पर भेज गया।

वारदात के बाद फरार हो गईं मां-बेटी
पता चला कि वारदात के बाद से घर में ताला बन्द कर दोनों मां-बेटी फरार हैं। गुरुवार को पता चला कि दोनों आरोपी तलवापरा में दिखी हैं। सूचना पर तत्काल पुलिस द्वारा घेराबन्दी कर हिरासत में लिया गया। पूछताछ के दौरान आरोपी पूजा प्रधान उम्र 21 वर्ष और उसकी मां प्रमिला प्रधान उम्र 40 वर्ष ने जुर्म कबूल कर लिया। इसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर जेल भेज दिया गया।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here