– सुप्रीम कोर्ट का फरमान, दो हफ्ते के भीतर ले जाया जाए यूपी की जेल

नई दिल्ली, डीडीसी। गैंगेस्टर से बाहुबली विधायक बना मुख्तार अंसारी पंजाब की जेल में मुंह छिपाए बैठा है। उसे डर की UP की योगी सरकार विकास दुबे की तरह उसका भी एनकाउंटर करा देगी। हालांकि अब मुख्तार अंसारी पंजाब की जेल में नही रह पाएगा। अब उसे वापस उतर प्रदेश की उसी काल कोठरी में लौटना होगा, जहां से वो पंजाब की जेल पहुंचा। आपको याद होगा कि मुख्तार अंसारी को पंजाब जेल में रोकने और उसे वापस यूपी ले जाने के लिए दोनों राज्यों की सरकारों ने एड़ी-चोटी का जोर लगा दिया था। बहरहाल, शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अशोक भूषण और आर सुभाष रेड्डी की पीठ ने निर्देश दिया कि अंसारी को दो हफ्ते के अंदर यूपी को सौंपा जाए।

FIR में साफ तौर पर नाम ही नही अंसारी का
उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से कोर्ट में पेश हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने 3 मार्च को सुनवाई के दौरान बताया कि अंसारी ‘पंजाब की रोपड़ जेल से अपना कारोबार संचालित कर रहा है।’ मेहता ने कहा कि जिस एफआईआर के कारण पंजाब पुलिस ने अंसारी की गिरफ्तारी की, उसमें साफ तौर से मुख्तार अंसारी का नाम नहीं था। कहा, मजिस्ट्रेट के निर्देश के बिना बांदा जेल अधीक्षक द्वारा सौंपे जाने के बाद अंसारी को पंजाब ले जाया गया।

कोर्ट ने खारिज की अंसारी की याचिका
आपको बता दें कि इससे पहले कोर्ट ने दो ट्रांसफर याचिकाओं को सीज कर लिया था। जिनमें से एक याचिका यूपी सरकार द्वारा अंसारी को पंजाब से यूपी ट्रांसफर करने को लेकर दायर की गई थी। जबकि दूसरी याचिका में अंसारी ने अपने खिलाफ दर्ज केस को दिल्ली ट्रांसफर करने की मांग की थी। सुप्रीम कोर्ट ने अंसारी की याचिका को खारिज कर दिया।

कोर्ट ट्रायल के दौरान यूपी जेल से ले आई पंजाब पुलिस
मऊ सदर सीट से विधायक अंसारी यूपी की एक जेल में बंद था और उसके केस का ट्रायल चल रहा था। इसी बीच पंजाब पुलिस ने जबरन वसूली और धमकी की शिकायत मिलने पर उसके खिलाफ प्रोडक्शन वारंट हासिल किया और उसे पंजाब ले गई। जिसके बाद से ही यूपी और पंजाब सरकारों के बीच जंग छिड़ी हुई है। इल्जाम पंजाब सरकार पर तब लगने लगे जब वह सरकार खुद कोर्ट में मुख्तार की पैरवी में जुट गई। कहा गया कि आखिर पंजाब सरकार का ऐसा क्या इंट्रेस्ट है कि वो पंजाब पुलिस के बजाय खुद मुख्तार की पैरवी में जुटी है।

क्या रोपण से बांदा जेल लाया जाएगा अंसारी
सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को गैंगस्टर से नेता बने मुख्तार अंसारी को दो हफ्ते के अंदर पंजाब से उत्तर प्रदेश की जेल में स्थानांतरित करने का आदेश दिया है। यह आदेश इसलिए दिया गया है ताकि अंसारी वहां पर मुकदमे का सामना कर सके। फिलहाल बाहुबली नेता पंजाब की रोपड़ जेल में बंद है। अब प्रयागराज की विशेष एमपी/एमएलए कोर्ट यह तय करेगी कि अंसारी को बांदा की जेल में रखा जाएगा या फिर किसी जेल में।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here