– मुम्बई के साकीनाका ने दिलाई दिल्ली के निर्भया कांड की याद

मुंबई, डीडीसी। मुंबई में उपनगर साकीनाका में रेप पीड़ित (Saki Naka Rape Victim) महिला की मौत हो गई है। टेंपो के अंदर 34 वर्षीय महिला के साथ बलात्कार किया गया था। घटना के बाद महिला की हालत इतनी ज्यादा खराब हो गई थी कि उसे वेंटिलेटर पर रखना पड़ा था। ये घटना 2012 के ‘निर्भया’ कांड (Nirbhaya Rape Case) की याद दिलाती है।

33 घंटे तक अस्पताल में मौत से लड़ी जंग
आरोपी ने महिला के जननांग को लोहे की रॉड से लहूलुहान कर दिया था और फिर उसे सड़क पर फेंक कर चला गया था। पुलिस वहां पहुंची तो महिला को खून से सना पाया। उसे तत्काल अस्पताल ले जाया गया, जहां करीब 33 घंटों तक जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ती महिला ने आखिकार दम तोड़ दिया। हालांकि घटना के कुछ ही घंटों के भीतर आरोपी मोहन चौहान (45) को गिरफ्तार कर लिया गया था।

महिला की अतड़ियाँ तक निकल आईं बाहर
महिला की गंभीर हालत जानकर मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर भी उसका हालचाल जानने अस्पताल पहुंची थीं। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा, ‘साकीनाका पुलिस स्टेशन क्षेत्र में 9 सितंबर की रात को जो घटना घटी, वह बेहद दुःखद है। दिल्ली में इस तरह की घटना हुई थी। उन्होंने कहा था कि महिला के शरीर से काफी खून बह गया। उसकी अतड़ियां निकल गई हैं। उन्होंने बताया कि ऐसी घटना किसी के साथ दुबारा न हो। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि आरोपी मोहन चौहाण के साथ महिला 10 से 12 साल तक पहले साथ में थी।’

कंट्रोल रूम की आई थी मारपीट की कॉल
दरअसल, शुक्रवार तड़के पुलिस कंट्रोल रूम को फोन आया कि खैरानी रोड पर एक शख्स एक महिला की पिटाई कर रहा है। अधिकारी ने बताया कि महिला का पता लगाने के लिए पुलिस टीम मौके पर पहुंची। खून से लथपथ महिला को नगर निगम संचालित राजावाड़ी अस्पताल ले जाया गया। शुरुआती जांच में पता चला कि महिला के साथ बलात्कार किया गया और उसके निजी अंगों में लोहे की छड़ से हमला किया गया।

वारदात की रात बहन के घर जा रही थी मृतका
कहा जा रहा है कि घटना की रात पीड़िता रात आठ बजे अपने घर से अपनी बहन के यहां जाने के लिए निकली थी। घटना के सीसीटीवी फुटेज को मुंबई पुलिस ने जब्त कर लिया है। सीसीटीवी में साफ-साफ दिख रहा है कि युवक महिला को बड़ी बेरहमी से पीट रहा है। एक अन्य सीसीटीवी फुटेज में आरोपी टेंपो से बाहर निकलते हुए दिखाई दे रहा है। इसके बाद वो वहां से भागने की कोशिश कर रहा है।

मुकदमा दर्ज और आरोपी गिरफ्तार
यह घटना सड़क किनारे खड़े एक टेंपो के अंदर हुई। बताया गया कि वाहन के अंदर भी खून के धब्बे मिले हैं। डॉक्टरों के मुताबिक महिला की हालत भर्ती कराने के वक्त ही गंभीर थी। कुछ सुरागों के आधार पर कार्रवाई करते हुए आरोपी चौहान को भारतीय दंड संहिता आईपीसी की धारा 307 और 376 के तहत गिरफ्तार किया गया है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here