– नागौर में कत्ल की सनसनीखेज वारदात, सलाखों में कातिल

नागौर, डीडीसी। मामी की मोहब्बत में भांजा ऐसा दीवाना हुआ कि उसने अपने हाथ अपने ही मामा के खून से रंग डाले। उसने कुल्हाड़ी से उस वक्त अपने मामा पर हमला किया, जब वह सो रहा था। उसने कुल्हाड़ी से मामा को काट डाला। षड्यंत्र मामी ने रचा और उसे लगा कि वह पाक साफ बच जाएगी, लेकिन ऐसा हुआ नही। अब दोनों सलाखों के पीछे हैं। मामला नागौर जिले के मूंडवा थाना इलाके का है। पुलिस ने 48 घंटे के भीतर पूरे मामले का वर्कआउट किया है।

मामा के सामने हो गया था मोहब्बत का पर्दाफाश
मूंडवा निवासी सुरेश यहां अपनी पत्नी किरण के साथ रहता था। घर में एक बार भांजा शम्भूनाथ आया और फिर उसके आने-जाने का सिलसिला शुरू हो गया। इस आने-जाने में मामी और भांजे के बीच प्यार पनपने लगा। इस प्यार में दोनों हमबिस्तर भी हुए और एक दिन इस प्यार का भंडाफोड़ हो गया। सुरेश को सब पता लग गया और अब किरण और उसके भांजे प्रेमी शम्भूनाथ का मिलना-जुलना बंद हो गया। मामा ने दोनों पर प्रतिबंध लगा दिया था और यही प्रतिबंध मामा की मौत की वजह बन गया। इसलिए दोनों ने मिलकर सुरेश की हत्या कर दी।

कत्ल की रात घर में छिपा लिया था भांजा
भांजा शम्भू और मामी किरण इस कदर करीब आ चुके थे कि अब अलग नही रहना चाहते थे, लेकिन मामा सुरेश दोनों के बीच दीवार बन चुका था। ऐसे में दोनों ने सुरेश को ठिकाने लगाने का प्लान बना डाला। किरण ने प्रेमी भांजे शंभु को वारदात की रात अपने घर में छिपा लिया। इस बारे में सुरेश को कुछ पता नही था और वो रोज की तरह खाना खाकर सो गया। आधी रात हो चुकी थी और ठंड की वजह से गांव सुनसान हो चुका था। ये मौका सही था, आधी रात मौका देख कर सोते हुये सरेश को कुल्हाड़ी से काट डाला गया।

48 घंटे भी नही टिका मामी का झूठ
पुलिस अधीक्षक श्वेता धनखड़ ने बताया कि मूंडवा निवासी सुरेश का शव उसके घर के बाहर चारपाई पर मिला था। धारदार हथियार से वारकर उसकी हत्या की गई थी। मामले की जांच के लिये एक टीम का गठन किया था। इस टीम ने त्वरित कार्रवाई करते हुए महज 48 घंटों के भीतर इस हत्याकांड का खुलासा कर दिया। पुलिस ने मृतक की पत्नी किरण और उसके भांजे शंभुदास को गिरफ्तार किया है। इन दोनों के बीच काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था। हालांकि किरण ने पुलिस को खूब गुमराह करने की कोशिश की, लेकिन पुलिसिया पूंछताछ के आगे वो टिक नही सकी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here