हल्द्वानी, डीडीसी। उत्तराखंड परिवहन निगम में कर्मचारियों का बुरा हाल है। उनसे एक रेस्ट पर 24 घंटे ड्यूटी कराई जा रही। इस भी न तो मेडिकल सुविधा मिल रही है और न ही बोनस। रही सही कसर निगम ने वेतन न देकर पूरी कर दी है। पता आपको कर्मचारी को 4 माह का वेतन नही मिला है और अब उत्तराँचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन ने प्रबंधन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। यूनियन की काठगोदाम शाखा ने यूनियन कार्यालय में बैठक की और आंदोलन का नोटिस जारी कर दिया। काठगोदाम सहायक महाप्रबंधक को 12 सूत्रीय मांग पत्र थमा दिया गया है और समाधान न होने पर अंजाम के लिए तैयार रहने की चेतावनी भी दे दी गई है। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष कमल पपनै, शाखा अध्यक्ष आनंद बिष्ट, शाखा मंत्री मनोज भट्ट, प्रदीप शर्मा, शशिकांत गौतम, निर्मल जोशी, मो रेहान, संदीप गौतम, सोनाराम, नरेश कुमार, सुंदर लाल, सतनाम सिंह, मो जाहिद, प्रदीप सिंह, गौरव जोशी, दिनेश तिवारी, सूरज बाबू, शिव कुमार, केवेंद्र चौहान मौजूद थे।

ये है परेशानी और समाधान
– निगम ने ड्यूटी रेस्ट किया और बंद 280 किलामीटर की अनिवार्यता कर दी, अब 24 घंटे ड्यूटी पर एक रेस्ट ही मिलेगा। जबकि पहले 24 घंटे ड्यूटी में रेस्ट दिये जाते थे
– डिपो के कई वाहन बिना ई टिकटिंग मशीन के चल रही है। मशीनें जल्द मंगाई जाय।
– निगम के अनुबंधित ढाबे कोविड-19 के नियमों का पालन नही कर रहे। इनका निरक्षण हो।
– कर्मचारियों की 5 सीपीएल अवकाश जो काटी गई है, उन्हें दिया जाय।
– 4 माह से कर्मचारियों को वेतन नही दिया गया, उसे दिया जाए।
– वाहनों को बिना सेनिटाइजर किये न भेजा जाय। बस से जा रहे यात्रियों की हल्द्वानी स्टेशन पर थर्मल स्क्रीनिंग की जाय।
– कानपुर/लखनऊ/आगरा मार्ग के वाहन को पहले रुद्रपुर का अतिरिक्त किलोमीटर करवाया जा रहा है, मार्ग से आने के बाद अन्य चालक-परिचालक से वाहन को मार्ग पर भेजा जाय।
– लगेज प्रकरण में परिचालको का बोनस काटा गया है, बोनस बना कर दिया जाय।
– कर्मचारियों के देय मेडिकल अवकाश को स्वीकृत किये जाय।
– समय संचालक कक्ष में भेदभाव किया जा रहा है, उसका संज्ञान लिया जाय।
– डिपो परिसर में स्वच्छ पानी की व्यवस्था की जाय।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here