– गैंगस्टर विकास दुबे के 3 सहयोगियों को बिकरू मामले में एनएसए की पैरवी

भरत गुप्ता, डीडीसी। कई हत्याओं, बेशुमार जघन्य अपराधों और 8 पुलिसवालों की हत्या करने वाला कानपुर के विकास दुबे एनकाउंटर में मारा जा चुका है। अब बारी है विकास के खजांची और खासमखास गुर्गों की। योगी सरकार के पास इनके लिए भी प्लान है। फिलहाल तो ये सलाखों के पीछे हैं और इन्हें अंदर ही रखने के लिए अब इन पर NSA लगाने की तैयारी की जा रही है। जिसमें विकास दुबे का खजांची कोषाध्यक्ष जय बाजपेयी, बदमाश गुड्डन त्रिवेदी और एक अन्य आरोपी शामिल है। इनकी फाइलें जिलाधिकारी को भेजकर एनएसए की सिफारिश की गई है।

विकास के 43 साथी हैं सलाखों के पीछे
उत्तर प्रदेश पुलिस की सिफारिश के अनुसार, बिकरू मामले में मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे के तीन सहयोगियों, उनके कथित फाइनेंसर जयकांत बाजपेयी सहित अन्य पर जल्द ही राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) लगाया जाएगा।  जिलाधिकारी की मंजूरी मिलते ही उनके खिलाफ एनएसए के तहत मामला दर्ज किया जाएगा। बिकरू कांड का मुख्य आरोपी गैंगस्टर दुबे पिछले साल पुलिस मुठभेड़ में मारा गया था, जबकि 43 अन्य जेल में हैं।

दबिश पर गई टीम को उतारा था मौत के घाट
दुबे और उसके साथियों ने पिछले साल कानपुर के बिकरू गांव में छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर हमला किया था। छापेमारी के दौरान पुलिसकर्मियों पर घात लगाकर हमला किया गया और आठ पुलिसकर्मी मारे गए। मध्य प्रदेश में दुबे और उसके साथियों की गिरफ्तारी के बाद। दुबे को वापस यूपी लाए जाने के दौरान पुलिस मुठभेड़ में मार गिराया गया था। उसने कथित तौर पर पुलिस हिरासत से भागने की कोशिश की और पुलिसकर्मियों की क्रॉस फायरिंग में मारा गया।

1 दर्जन पर लगेगा एनएसए
ADG भानु भास्कर ने कहा, “बिकरु मामले के तीन आरोपी शिवम दुबे, बबलू और रमेश चंद्र दुबे पर पहले ही एनएसए के तहत मामला दर्ज किया जा चुका है। तीन अन्य पर NSA लगाने की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। बिकरू मामले में कम से कम एक दर्जन आरोपियों पर NSA लगाया जाएगा। जांच के बाद फाइलें जिलाधिकारी को भेजी जा रही हैं।

5 लाख इनाम रखा था सरकार ने
दुबे आठ पुलिसकर्मियों की मौत के लिए वांछित था और उसकी गिरफ्तारी के लिए सूचना देने के लिए 5 लाख रुपये का इनाम था। वह एक कुख्यात गैंगस्टर था और अपने जीवनकाल में हत्याओं सहित लगभग 60 आपराधिक मामलों में मुख्य आरोपी था।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here