– कानपुर देहात में दलित के साथ अमानवीय व्यवहार

भरत गुप्ता (कानपुर), डीडीसी। भारत मे आज भी प्यार को तिरस्कार की नजर से देखा जाता है और तालिबानी सजा दी जाती है। मोहब्बत में ऐसी ही तालिबानी सजा कानपुर देहात में एक युवक को मिली। पहले उसे पेड़ से बांध कर बेरहमी से पीटा गया और हद तो तब हो गई जब उसके प्राइवेट पार्ट में डंडा डाल दिया गया। युवक बुरी तरह जख्मी है और कानपुर के हैलट अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है।

प्रेमिका के घर वालों ने दी प्रेमी को सजा
प्रेम प्रसंग के आरोप में लड़की के घर और गांव वालों ने युवक को पहले पेड़ से बांधकर पीटा। फिर उसके प्राइवेट पार्ट में डंडा डाल दिया। बताया जा रहा है कि घंटों पिटाई करने के बाद वह अधमरा हो गया तो उसे छोड़ दिया। सूचना पर पहुंचे युवक के परिजनों ने उसे कानपुर के हैलट अस्पताल में भर्ती कराया है। जहां उसका इलाज चल रहा है। हालांकि वीडियो सामने आने के बाद मामले में आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

पुताई करते-करते प्यार हो गया
मामला अकबरपुर थाना क्षेत्र के कमालपुर गांव का है। बता दें कि कानपुर देहात के पतारी गांव में रहने वाला सरवन पुताई का काम करता है। वह पास के ही गांव कमालपुर में पुताई करने गया था। इस दौरान गांव में रहने वाले संजय पाल की बेटी से उसकी दोस्ती हो गई। फोन पर दोनों की बातचीत होने लगी, लेकिन एक रोज इसकी भनक लड़की के घरवालों को लग गई।

जब संजय पाल को इस बात की जानकारी हुई तो उसने लड़के को सबक सिखाने की योजना बना ली। संजय ने अपनी बेटी से फोन कराया और बहाने से युवक को गांव बुलाने को कहा। प्रेमिका के फोन पर युवक उससे मिलने गांव पहुंच गया। इसके बाद पहले से ही घात लगाए बैठे संजय समेत अन्य लोगों ने सरवन को दबोच लिया।

पेड़ से बांधा, पीटा, डंडा डाला और वीडियो बनाया
सरवन के गांव पहुंचने से पहले ही भागने के रास्तों पर आदमी तैनात कर दिए गए। ताकि सरवन भाग न सके। गांव में दाखिल होते ही उसे दबोच लिया गया। उसे जमकर पीटा गया, गालियां दी गई। फिर भी मन नही भरा तो उसे पेड़ से बांध दिया गया और फिर पीटा गया। उसकी पैंट उतार दी गई और उसके प्राइवेट पार्ट को डंडों से पीटा और डंडा भी डाल दिया। खास बात ये कि पूरी घटना का वीडियो बनाने के लिए आरोपियों ने एक आदमी भी लगा रखा था।

https://fb.watch/6F9F5SS9V-/

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here