– हरिद्वार में कोरोना विस्फोट, बंदियों को तीन दिन रखा जाएगा क्वारंटीन

हल्द्वानी, डीडीसी। हरिद्वार जेल में कोरोना विस्फोट के बाद हल्द्वानी सब जेल प्रशासन हरकत में आ गया है। किसी भी बिना सेनेटाइज हुए अंदर आने की इजाजत नहीं है। जबकि मास्क को फिर से अनिवार्य कर दिया गया है। अस्पताल जाने वाले बंदियों को भी अब तीन दिन के लिए क्वारंटीन होना होगा।

बता दें कि बीती 28 और 29 जुलाई को हरिद्वार जेल में हपेटाइटिस के लिए शिविर लगाया गया था। शिविर में बंदियों और कैदियों के कोरोना सैंपल भी लिए गए थे और जब इस जांच की रिपोर्ट आई तो जेल में हड़कंप मच गया। कुल 70 बंदियों और कैदियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

इस खबर के बाद हल्द्वानी सब जेल प्रशासन भी हरकत में आ गया है। बता दें कि 535 लोगों की क्षमता वाली सब जेल में इस वक्त 1774 बंदी हैं। यानी जेल पर करीब चार गुना ज्यादा बंदियों का बोझ है। ऐसे में संक्रमण फैला तो बड़ा विस्फोट हो सकता है। हालांकि जेल प्रशासन कोरोना से निपटने को तैयार है।

जेल अधीक्षक सतीश कुमार सुखीजा ने बताया कि संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए पहले से ही सावधानियां बरती जा रही हैं। मिलाई के लिए आने वालों को विडो सिस्टम से मिलाई कराई जा रही है। तकरीबन 60 जेल कर्मचारियों को आने से पहले सेनेटाइज कराया जा रहा है और बिना मास्क जेल न आने की हिदायत दी गई है।

इसके अलावा स्वास्थ्य लाभ के लिए अस्पताल जाने वाले बंदियों को जेल में बनी तन्हाई बैरक में तीन दिन का क्वारंटीन कराया जा रहा है। कोर्ट जाने वाले बंदियों के लिए मास्क अनिवार्य है और समय-समय जेल में फॉगिंग कराई जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here