– बाजपुर में बोले टिकैत, पिता ने बचाया बाजपुर, हम उजड़ने नही देंगे

बाजपुर, डीडीसी। रुद्रपुर के निकले किसान नेता राकेश टिकैत का काफिला पहले बाजपुर में रुका। यहां चंद मिनट रुके और उन्होंने रुद्रपुर में किसान मंच की तस्वीर साफ कर दी। कहा कि किसानों का मंच राजनीतिक रोटियां सेंकने के लिए नही है। ऐसे लोग मंच से दूर रहें। साथ ही बाजपुर के लोगों को भरोसा दिलाया कि उनके पिता ने बाजपुर की तमाम सारी जमीनों को बचाया है और वो यहां के किसानों को उजड़ने नही देंगे।

पेंशन, पद छोड़कर समर्थन दें, हमें गुरेज नही
यहां उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन में कोई भी शामिल हो सकता है फिर वो राजनीतिक व्यक्ति ही क्यों न हो। हां ऐसे लोगो को इतना जरूर याद रखना होगा कि वो मंच से बात सिर्फ किसान हक की करेगा। उन्होंने कहा, जो भी नेता किसानों के समर्थन में आना चाहे वह अपनी पेंशन सरकारी सुविधा को त्याग कर हमारे साथ शामिल हो, हम उसका स्वागत करेंगे।

खाली होते पहाड़ पर जाहिर की चिंता
राकेश टिकैत ने कहा कि समय आने पर वो पहाड़ के किसानों के साथ भी खेती बचाओ संघर्ष की बात करेंगे। उन्होंने खाली होते पहाड़ों पर चिंता जाहिर की और कहा कि पहाड़ में अच्छी खेती हो सकती है। हम चाहते हैं कि किसान पहाड़ों में खेती कर देश की सीमाओं की रक्षा में योगदान करें। पहाड़ की उन्नत किस्म की फसलें देश के लिए लाभकारी साबित होंगी।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here