– इंग्लैंड के कप्तान माइकल वॉन बोले, अनूठा बल्लेबाज है ऋषभ पंत

नई दिल्ली, डीडीसी। वनडे सीरीज के आखिरी मुकाबले में भारत से मिली हार और इस हार में अहम रोल प्ले करने वाले ऋषभ पंत का हर कोई दीवाना हो रहा है। दीवानगी का खुमार इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) पर भी सवार है। माइकल भारतीय विकेटकीपर ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के फैन हो गए हैं। वॉन को पंत का बेखौफ अंदाज में बल्लेबाजी करना पसंद आ रहा है। वॉन ने कहा कि जब पंत बल्लेबाजी करने आते हैं, तो उन पर किसी तरह का दबाव नजर ही नहीं आता।

“पंत जैसी सोच और मानसिकता मुश्किल”
वॉन ने कहा, ‘मैं ईमानदारी से बताऊं तो मुझे लगता है कि पंत पागल हैं। वह बेखौफ अंदाज में खेलते हैं। लगता है जैसे पार्क में खेल रहे हैं। वह उसी तरह से बल्लेबाजी करते हैं, जैसे सालों से करते चले आ रहे हैं। फिर चाहें अंडर-11, अंडर-15, अंडर-19 या भारत के लिए खेलें, इससे फर्क नहीं पड़ता। उनके लिए ये सिर्फ एक खेल भर है। खेल के प्रति उनका रवैया बहुत नया लगता है और ऐसी सोच और मानसिकता होना बहुत मुश्किल है।’

धोनी और गिलक्रिस्ट को पीछे छोड़ देंगे पंत : इंजमाम
एक दिन पहले ही पाकिस्तान के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने भी पंत की तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि अगर पंत अपने मौजूदा फॉर्म को बरकरार रखने में कामयाब रहते हैं, तो वो महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) और ऑस्ट्रेलिया के पूर्व विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट (Adam Gilchrist) को बहुत पीछे छोड़ देंगे। पिछले ऑस्ट्रेलिया दौरे से टीम इंडिया में वापसी के बाद से ही पंत जबरदस्त फॉर्म में हैं। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के खिलाफ खेले पिछले 6 टेस्ट में वो 4 अर्धशतक और एक शतक लगा चुके हैं। पंत ने अब तक 20 टेस्ट में 45 से ज्यादा की औसत से 1358 रन बनाए हैं। इस फॉर्मेट में उन्होंने तीन शतक भी लगाए हैं। वहीं, 18 वनडे में उनके 529 रन हैं।

तकनीक नही पंत की मानसिकता कॉपी करें युवा
इंग्लैंड के इस पूर्व कप्तान ने क्रिकबज में कहा कि पंत को देखने वाले युवा खिलाड़ियों को मेरी एक ही सलाह होगी कि वो तकनीक की बजाए उनकी मानसिकता को कॉपी करें। क्योंकि उनकी तकनीक खास है। बीते कुछ महीनों में आक्रामक बल्लेबाज के रूप में पंत की पहचान और मजबूत हुई है। अक्सर उनकी इस बात को लेकर आलोचना होती रहती है कि वो आक्रामक बल्लेबाजी के चक्कर में अपना विकेट गंवा देते हैं, लेकिन पिछले कुछ महीनों में उनके खेल में बहुत सुधार आया है। वो अब बड़ी पारी खेलने की कोशिश करते हैं।

पंत ने लगातार दो वनडे में अर्धशतक लगाए
पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे वनडे में भी बेखौफ अंदाज में ही बल्लेबाजी की थी। वो शतक तो नहीं लगा पाए, लेकिन मिडिल ऑर्डर में उन्होंने जिस तरह हार्दिक पंड्या के साथ मिलकर बल्लेबाजी की। उसकी वजह से टीम मैच में 300 से ज्यादा रन का स्कोर खड़ा कर पाई। पंत ने 62 गेंद पर 78 रन की पारी खेली। अपनी इस पारी में पंत ने 5 चौके और 4 छक्के लगाए। उन्होंने पंड्या के साथ 73 गेंद पर 99 रन की साझेदारी की। पंत का यह उनके वनडे करियर का सर्वश्रेष्ठ स्कोर है। वहीं, इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे वनडे में भी उन्होंने 40 गेंद पर 77 रन की पारी खेली। हालांकि, भारत ये मैच हार गया, लेकिन अपनी इस छोटी से पारी में 23 साल के इस विकेटकीपर बल्लेबाज ने जिस तरह के शॉट्स खेले उससे हर कोई प्रभावित हुआ।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here