पटना, डीडीसी। बिहार में क्राइम का ग्राफ तो बढ़ ही रहा है, इसी के साथ लोगों में मरती संवेदनाओं का ग्राफ भी बढ़ रहा है। ऐसा कुछ आज यानि मंगलवार को एक सडक़ हादसे में घायल हुए लोगों और एक लाश के साथ देखने को मिला। लोग लहूलुहान पड़े थे, एक लाश पड़ी थी और मदद के बजाय लोग उन्हें लूट रहे थे। संवेदनाएं तो इस कदर मर चुकी थी कि लोगों ने एक मरे हुए को भी लूटने से गुरेज नहीं किया।
हादसा सिवान के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के भंतोपोखर की है। बताया जाता है कि मैड़वा थाना क्षेत्र के गांव फुलवारिया के एक परिवार के 11 लोगों को एक साथ मुंबई जाना था। इसके लिए परिवार के लोगों ने मंगलवार यानी 8 दिसंबर का रेल टिकट बुक कराया था। ट्रेन सिवान रेलवे स्टेशन से मुंबई के लिए रवाना होनी थी। ट्रेन सभी समय पर मिल सके, इसलिए परिवार के सभी 11 सदस्य जीप में सवार होकर रेलवे स्टेशन के लिए निकले, लेकिन रास्ते में काल इन लोगों का इंतजार कर रहा था। जीप में सवार ये लोग अभी मुफस्सिल थाना क्षेत्र के भंतोपोखर ही पहुंचे थे कि तभी हादसे का शिकार हो गए। घायलों में से एक पिंकी की मानें तो उनकी जीप के आगे और पीछे ट्रक चल रहे थे। पीछे चल रहा ट्रक ओवरटेक करने के लिए लगातार हॉर्न दे रहा था। ट्रक को साइड देने के चक्कर में जीप एक गड्ढे में चली गई और अनियंत्रित हो गई। जिससे जीप आगे चल रहे ट्रक में जा घुसी। इस हादसे में जीप का अगला हिस्सा बुरी तरह छतिग्रस्त हो गया। जीप में बैठे लोग बुरी तरह लहूलुहान हो गए। कुछ तो जीप से उछल कर रोड पर गिरे और खून से लतपथ दर्द से कराहने लगे। इस हादसे में एक की मौके पर ही मौत हो गई। इधर, जब हादसे की सूचना पास के गांव वालों को लगी तो वह मौके पर जा पहुंचे, लेकिन मदद नहीं की। लोग दर्द से कराह रहे और घायलों को अस्पताल पहुंचाने के बजाय ये गांव वाले उनके साथ लूटपाट में लग गए। हद तो तब हो गई, जब इंसानियत का गला घोंट चुके इस गांव वालों ने सडक़ पर पड़ी लाश को नहीं छोड़ा। इन लोगों ने लाश को भी लूटा और जैसे ही पुलिस के आने की भनक लगी तो मौके से फरार हो गए। कुछ पल बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंचाया। जहां एक की हालत नाजुक होने पर उसे पटना रेफर कर दिया गया। इसके बाद पुलिस अत्याचारी लूटपाट करने वाले ग्रामीणों की तलाश में जुट गई। बताया जा रहा है कि पुलिस घायलों और मृतक से लूटपाट करने वाले अधिकांश लोगों को हिरासत में ले लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here