– सल्ट विधानसभा उपचुनाव के लिए जारी स्टार प्रचारकों में पूर्व CM त्रिवेंद्र को जगह नही

सर्वेश तिवारी, डीडीसी। कुर्सी गई, पद गया, घट गया मान-सम्मान और इतना घटा कि हाल ही के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को अब सल्ट विधानसभा उपचुनाव के लिए जारी स्टार प्रचारकों की सूची से भी बाहर कर दिया गया। 30 स्टार प्रचारकों की सूची में त्रिवेंद्र सिंह रावत का नाम नही है। सीधे शब्दों में कहा जाए तो त्रिवेंद्र सल्ट के चुनाव प्रचार में नजर नही आएंगे। बहरहाल, कांग्रेस के 30 स्टार प्रचारकों के जवाब में भाजपा के भी 30 स्टार प्रचारक मैदान में हैं। इन स्टार प्रचारकों में एक नाम उत्तराखंड के मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत का भी है। अब देखना ये होगा कि त्रिवेंद्र के न होने का भाजपा को लाभ मिलता है या नुकसान उठाना पड़ सकता है।

अचानक आए थे और एकाएक चले गए
उत्तराखंड में मोदी के चेहरे पर चुनाव लड़ने वाली भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश में प्रचंड जीत दर्ज की। 4 साल पहले ये जीत इतनी बड़ी थी कि विपक्ष का सूपड़ा साफ हो गया। इसके कयास लगे कि उत्तराखंड का मुख्यमंत्री कौन होगा। चर्चित चेहरों पर चर्चा शुरू हुई और अचानक एक ऐसा नाम सामने आया, जिससे जनता पूरी तरह अनजान थी। ये नाम था त्रिवेंद्र सिंह रावत का। निर्विवाद त्रिवेंद्र उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बन गए। हालांकि जिया तरह वह उत्तराखंड के अचानक सीएम बने, वैसे ही अचानक उन्हें इस्तीफा देना पड़ गया और अब उन्हें स्टार प्रचारकों की सूची से भी निकाल दिया गया है।

CM बनते शुरू हो गई थीं हटने की अटकलें
उत्तराखंड का CM बनते ही ये चर्चा शुरू हो गई थी त्रिवेंद्र सिंह रावत लंबे समय तक मुख्यमंत्री की कुर्सी पर काबिज नही रह पाएंगे। ऐसी चर्चाओं से प्रदेश की राजनीति हमेशा गर्म रही, लेकिन हुआ कुछ और। त्रिवेंद्र सरकार ने 4 साल काटे और फिर अचानक उन्हें जाना पड़ा। माना जाता है कि यदि CM बनने के कुछ समय बाद ही अगर त्रिवेंद्र को हटा दिया जाता तो सीधे शीर्ष नेतृत्व के फैसला लेने की क्षमता पर सवाल खड़ा कर दिया जाता। 4 साल बाद त्रिवेंद्र को हटा कर अब शीर्ष नेतृत्व ने जनता को ये मैसेज देने की कोशिश की है कि उन्होंने जनता की इच्छा का सम्मान किया है।

ये हैं सल्ट में भाजपा के स्टार प्रचारक
मदन कौशिक, तीरथ सिंह रावत, दुष्यंत कुमार गौतम, रेखा अरुण वर्मा, रमेश पोखरियाल निशंक, अजय भट्ट, अजय टम्टा, महारानी राज्य लक्ष्मी, अनिल बलूनी, नरेश बंसल, अजेय कुमार, धन सिंह रावत, राजेन्द्र भंडारी, कुलदीप कुमार, सुरेश भट्ट, सुरेश जोशो, सतपाल महाराज, बंशीधर भगत, हरक सिंह रावत, बिशन सिंह चुफाल, यशपाल आर्य, अरविंद पांडेय, सुबोध उनियाल, गणेश जोशी, रेखा आर्या, पुरन फर्त्याल, दिवान सिंह बिष्ट, बलवंत भौर्याल, चंदन राम दास और महेश नेगी है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here