– 72वें गणतंत्र दिवस पर हल्द्वानी के ट्रांसपोर्ट नगर में दिनदहाड़े चल रही थी रासलीला

हल्द्वानी, डीडीसी। 72वें गणतंत्र दिवस पर कार में मौज-मस्ती 4 युवतियों और 2 युवकों को सलाखों के पीछे खींच ले गई। दोनों युवकों को पुलिस ने कार से उस वक्त गिरफ्तार किया, जब सभी आलिंगनबद्ध अनैतिक कार्य में लगे हुए थे। सभी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। मामला उत्तराखंड में नैनीताल जिले के हल्द्वानी का है।

पश्चिम बंगाल, कलकत्ता और दिल्ली की हैं लड़कियां
देह व्यापार में लिप्त चारों लड़कियां पश्चिम बंगाल, कलकत्ता और दिल्ली की हैं। जबकि लड़के उत्तराखंड उधमिंगनगर से ताल्लुक रखते हैं। इनमें सुकुमार सरकार पुत्र स्व. मानिन्दर सरकार (32) निवासी गुरुद्वारे के पास रुद्रपुर आवास विकास, हरिदास विश्वास ऊर्फ देव पुत्र सनातन विश्वास (28) निवासी ग्राम महतोष मोड़ पिपलिया थाना गदरपुर जिला ऊधमसिंहनगर, अभियुक्ता निवासी ग्राम बारासर पो. कलियागंज थाना व जिला कलियागंज पश्चिम बंगाल, अभियुक्ता निवासी ग्राम फुलसुंगा थाना ट्रांजिट कैम्प जिला ऊधम सिंह नगर स्थायी पता ग्राम शीषगढ़ थाना शीषगढ़ जिला पीलीभीत उ.प्र., अभियुक्ता निवासी तुकलगाबाग एम्हेन्सन कालकाजी दक्षिण दिल्ली, मूल पता ग्राम व पो. थाना बारासात जिला 24 परगना कलकत्ता व अभियुक्ता निवासी मोनोरिका थाना बसंत कुज नई दिल्ली मूल पता ग्राम बोसिरहाट थाना व जिला स्यालदा कलकत्ता पंश्चिम बंगाल है।

बोला, साहब कार में कुछ गड़बड़ है
26 जनवरी को प्रभारी निरीक्षक कोतवाली हल्द्वानी को उनके निजी मोबाइल फोन पर सूचना मिली और सूचना देने वाले ने कहा कि साहब कार में कुछ गड़बड़ है। पता लगा कि टीपी नगर के सामने लजीज बार से करीब 50 मीटर दूर सतवाल पेट्रोल पम्प की ओर सडक किनारे बनी दुकानो की आड़ में एक इनोवा कार नम्बर यूके06एएस-9937 खड़ी है। जिसमें चार लड़कियां व दो लड़के अनैतिक कार्य कर रहे है। इसके बाद एक टीम मौके पर रवाना हुई और सभी धर लिए गए।

12 से 15 हजार एक रात कीमत
पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि कि ये टीम बना कर काम करते है। होटलो में एवं जरुरतमंद को सीधे लड़की सप्लाई करते है और इसके एवज में प्रति व्यक्ति लोगो से 12 से 15 हजार रुपये प्रति नाईट वसूल किया जाता था। हर तीसरे या चौथे दिन इनका राउण्ड हल्द्वानी लगता था।

कार में मौजूद था अश्लीलता का सारा सामान
दो लड़कों व 4 लड़कियों को अनैतिक देह व्यापार व अनैतिक कार्य करते हुए पकड़ा गया। मौके से 11 मोबाइल व अन्य अश्लील सामान भी बरामद हुआ। टीम में प्रभारी निरीक्षक संजय कुमार, उ.नि. लता बिष्ट, उ.नि. मंगल सिंह, का. कुन्दन कठायत का. विरेन्द्र चौहान, त्रिलोक चन्द, मंजू नेगी, सुनीता हंयाकी व अनीता फुलेरिया थी।

ग्राहक नही मिले तो आड़ में लगाई गाड़ी
आरोपियों ने बताया कि शाम 9 से 10 बजे के बीच ऐसे ही एकान्त में गाड़ी खड़ी कर ग्राहकों के फोन का इंतजार करते थे। फोन आते ही 10 से 15 मिनट में ग्राहक तक लड़कियां पहुंचा दी जाती थी। 26 जनवरी को देर रात तक हम ग्राहको का इंतजार करते रहे और जब किसी का फोन नही आया तो एकान्त में सड़क किनारे गाड़ी लगा दी। आरोपियों के खिलाफ पुलिस ने धारा 294/34 व 5/7 के तहत कार्यवाही की है।

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here