– आचार संहिता को ताक पर रख कर कांग्रेस प्रत्याशी सुमित ह्रदयेश कर रहे चुनाव प्रचार

हल्द्वानी, डीडीसी। एन, केन, प्रकारेण अर्थात चुनाव जीतने के लिए कुछ भी करेगा। कुछ ऐसा ही हाल खुद को मां का लाल कहने वाले कांग्रेस प्रत्याशी सुमित ह्रदयेश के हैं। सुमित को चुनाव जीतना है और फिर इसके लिए कानून भी तोड़ना पड़े तो परवाह नहीं और ये बेपरवाही सुमित को एक बार फिर भारी पड़ी। सुमित के खिलाफ बनभूलपुरा पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है।

बिना अनुमति के सुमित की जनसभा
बीती 9 फरवरी को हल्द्वानी विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी सुमित ह्रदयेश ने बगैर इजाजत के जनसभा आयोजित की और सैकड़ों की भीड़ जुटा ली। इसका खुलासा तब हुआ, जब आचार संहिता निर्वहन में लगी टीम देर रात शनिबाजार मार्ग स्थित अलफातिमा मैरिज पैलस पहुंची। टीम ने पाया कि सुमित हृदेयेश ने यहां एक इन्डोर जनसभा आयोजित की थी और इस जनसभा में 200-300 लोग उपस्थित पाए गए ।

टीम के कहने पर भी सुमित ने नहीं खत्म की जनसभा
बनभूलपुरा पुलिस को दी गई तहरीर में कहा गया है कि उक्त सभा बिना अनुमति के रात्रि 8 बजे के बाद भी आयेजित की जा रही थी। जिसमें आदर्श आचार संहिता कोविड-19 नियमों एवं शाशकीय दिशा निर्देशों की स्पष्ट अवहेलना की जानी प्रकाश में आयी। हमारी टीमो द्वारा मौके पर उपस्थित प्रत्याशी सुमित हृदयेश एवं उनके समर्थको से उक्त जनसभा को समाप्त करने का अनुरोध किया गया परन्तु उनके द्वारा उक्त जनसभा समाप्त नही की गई।

सुमित की जनसभा में मतीन के समर्थकों ने लगाए नारे
इसी समय एएमआईएमआई के प्रत्याशी अब्दुल मतीन सिद्दीकी के भाई जावेद सिद्दकी भी अपने लगभग 50-60 समर्थकों के साथ उक्त स्थान पर पहुंच गए और नारेबाजी शुरू कर दी। ये भी आदर्श आचार संहिता का उलंघन था। स्थिती बिगड़ते देख टीम ने मौके पर बनभूलपुरा पुलिस को बुलाया। पुलिस के पहुंचने पर मामला शांत हुआ और जनसभा खत्म हुई।

दोनों पक्षों पर बनभूलपुरा में दर्ज हुआ मुकदमा
तहरीर में कहा गया कि उक्त जनसभा में आदर्श आचार संहिता कोविड-19 नियमों एवं शासकीय दिशा निर्देशो की स्पष्ट अवहेलना की की गई। सुमित हृदयेश व उनके लगभग 200-300 समर्थको तथा जावेद सिद्दकी व उनके लगभग 50-60 समर्थको के विरूद्द प्राथमिकी दर्ज करने के लिए तहरीर दी गई। जिसके आधार पर दोनों के खिलाफ बनभूलपुरा में मुकदमा दर्ज कर लिया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here