– लाउड स्पीकर का जिक्र, बोले-धर्म की दुहाई देने वाले समझ लें कि योगी धर्म के बहुत करीब है

देहरादून, डीडीसी। यूपी के सीएम एक और दिन गुरुवार तक उत्तराखंड में रहेंगे। बुधवार को वह अपने पैतृक गांव पंचूर में एक पारिवारिक कार्यक्रम में शामिल होंगे। मूर्ति के अनावरण के बाद योगी अपने गांव पहुंचे। यहां उन्होंने ग्राम देवता की पूजा करने के बाद अपने घर की ओर रुख किया। अपनी बूढ़ी मां से सालों बाद मुलाकात की और उनके पैर छूकर आशीर्वाद लिया।

उत्तर प्रदेश जैसे बड़े सूबे के मुखिया होने के बावजूद योगी आदित्यनाथ ने हमेशा परिवार को सत्ता की चमक-दमक से दूर रखा। हालांकि योगी आदित्यनाथ दीक्षा लेने के बाद सन्यासी हो चुके हैं। योगी ने परिवार के बच्चों के साथ कुछ हल्के-फुल्के क्षण भी बिताए और चॉकलेट दी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को उस समय बेहद भावुक हो गए जब वह अपने गुरु महंत अवैद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण करने उत्तराखंड में अपने गृह जिले पौड़ी गढ़वाल पहुंचे। पौड़ी जिले में मुख्यमंत्री का पैतृक गांव पंचूर भी है। इसी गांव से चंद किलोमीटर दूर गोरखनाथ पीठ द्वारा बनाया गया डिग्री कॉलेज है जो अब उत्तराखंड सरकार के अधीन है।

यहीं पर महंत अवैद्यनाथ की मूर्ति का अनावरण करने के बाद योगी आदित्यनाथ एक जनसमूह को संबोधित कर रहे थे। यूपी के सीएम योगी ने बताया कि उनके गुरु पहाड़ में शिक्षा को लेकर बेहद गंभीर रहते थे।

गौरतलब है कि योगी के गुरु महंत अवैद्यनाथ का संबंध भी पौड़ी गढ़वाल जिले से रहा है योगी के अनुसार वह अपने गुरु को एक बार यहां लाना चाहते थे, लेकिन उनकी अवस्था और कुछ अन्य वजह से यह संभव नहीं हो पाया। इसी का जिक्र करते-करते योगी की आंखों से आंसू बहने लगे। उन्होंने अपनी जेब से रुमाल निकाल कर अपने आप को काबू किया।

योगी आदित्यनाथ ने कहा उत्तर प्रदेश में उनकी सरकार ने धार्मिक स्थलों से लाउडस्पीकर हटाने का फैसला लिया है। उन्होंने जिक्र किया कि धर्म की दुहाई देने वाले यह बात समझे कि वो (योगी) धर्म से बहुत करीब से जुड़े हैं। यूपी और उत्तराखंड की रिश्तों का जिक्र भी कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया।

उन्होंने कहा सालों से जो दोनों प्रदेशों के बीच परिसंपत्तियों का बंटवारा लटका हुआ था वह सुलझा है।

अपने उत्तराखंड प्रवास के आखिरी दिन गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी हरिद्वार में यूपी पर्यटन विभाग द्वारा बनाए गए एक गेस्ट हाउस का उद्घाटन भी करेंगे। इससे पहले हरिद्वार में यूपी के आधिपत्य में पर्यटन विभाग की प्रॉपर्टी उत्तराखंड को दे दी गई। बदले में उत्तराखंड सरकार ने यूपी को जमीन का टुकड़ा दिया, जहां पर अब नया गेस्ट हाउस तैयार किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here