– दुल्हन को नहाने भेजा और खुद लटक गया फंदे पर

हावड़ा, डीडीसी। पश्चिम बंगाल के हावड़ा से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां सुहागरात खत्म होते ही दुल्हन का सुहाग उजड़ गया। सुबह के समय दूल्हा फांसी के फंदे पर लटका मिला। यह मामला बी गार्डेन थाना अंतर्गत शालीमार इलाके की है। इस घटना के बाद से परिवार में कोहराम मचा हुआ है। परिजन और पुलिस इस खुदकुशी की वजह तलाशने में जुटे हैं। आखिर ऐसा किया हुआ कि दूल्हे को आत्महत्या के लिए मजबूर होना पड़ा?

सुहागरात के बाद दूल्हे की मौत से हर कोई हैरान
पुलिस ने बताया कि प्राथमिक जांच में मामला खुदकुशी का लग रहा है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चल पाएगा फिलहाल दूल्हे की मौत को लेकर रहस्य बरकरार है। परिजनों के साथ दुल्हन भी यही सोच में लगी है कि आखिर सुहागरात पर ऐसी क्या हुई जिसकी वजह से दूल्हे ने अपनी जिंदगी ही खत्म कर ली। इस पर पुलिस परिजनों से भी पूछताछ करने में जुटी है।

बाथरूम से निकली तो सामने लटक रही थी लाश
सात दिसंबर को शालीमार के रहने वाले आदर्श साव (24) की शादी बैरकपुर की रहने वाली लड़की के साथ धूमधाम से हुई थी। शालीमार से बैरकपुर 150 लोग बारात में गए थे। परिजनों के मुताबिक, दोनों की सहमति से ही शादी तय की गई थी। आठ दिसंबर को दुल्हन ससुराल पहुंची। गुरुवार को सुहागरात और शुक्रवार रात को बहू-भात का आयोजन था शुक्रवार सुबह दोनों नींद से जागे। दूल्हे ने दुल्हन से नहाने के लिए कहा। करीब आधे घंटे बाद वो नहाकर कमरे में आई तो देखा कि उसका पति फंदे से झूल रहा है। यह देखकर घर में चीख पुकार मच गई।

छह माह से हर रोज होती थी फोन पर बात
शख्स को फांसी के फंदे से नीचे उतारा और तुरंत ही उसे अस्पताल लेकर पहुंचे, लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। दुल्हन ने बताया कि शादी तय होने के बाद वो दोनों पिछले छह महीने से संपर्क में थे और रोज फोन पर बात होती थी। हम दोनों को ही शादी का बेसब्री से इंतजार था। सब कुछ ठीक चल रहा था।

‘बसने से पहले उजड़ गई मेरी दुनिया’
दुल्हन ने बताया कि शुक्रवार सुबह उन्होंने मुझे नहाने के लिए भेजा। करीब आधे घंटे बाद मैं कमरे में आई तो उन्होंने शॉल से फंदा लगा लिया था। मुझे नहीं समझ आ रहा है कि ऐसी क्या बात हो गई कि मेरी दुनिया बसने से पहले ही उजड़ गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here