– ऑक्सीजन न मिल पाने की वजह से उत्तर प्रदेश में हुई एक और मौत

आगरा, डीडीसी। पत्थर दिल भी फफक पड़ा। जब ये सुना और देखा कि एक बीवी की सांस भी पति की जान नही बचा पाई। एक औरत होकर भी उसने कोशिश में कमी नही की। पति को गोद में उठा कर ऑटो तक ले गई। अस्पताल में बेड का भी जुगाड़ किया, लेकिन सांस के लिए जरूरी ऑक्सीजन का इंतजाम नही कर पाई। ऑक्सीजन का इंतजाम नही हुआ तो उसने अपनी सांसे देकर पति की जान बचाने की कोशिश की। वो बिलखती रही और अपने मुंह से सांसें देती रही। पत्नी का करुण क्रंदन पति की टूटती सांसों के साथ मातमी चीख में तब्दील हो गया। पत्नी की गोद में उसकी तड़प-तड़प कर मौत हो गई। ये बेहद हृदय विदारक था और ये दृश्य देखने वाली हर आंख नम, लेकिन चाह कर भी कोई कुछ नही कर पाया। मामला उत्तर प्रदेश के आगरा जिले का है।

इससे ज्यादा और क्या करती रेनू
आगरा के विकास कॉलोनी के सेक्टर-7 में रहने वाली रेनू सिंघल के पति रवि सिंघल की अचानक तबियत बिगड़ गई। रवि को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी। आनन-फानन में रेनू ने अस्पताल में बेड का इंतजाम किया, ऑटो बुलाया और फौरन पति को लेकर अस्पताल रवाना हो गई। हालांकि होनी को कुछ और ही मंजूर था। रवि की सांस लेने में और ज्यादा तकलीफ होने लगी। रेनू ने ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए खूब कोशिश की, लेकिन इंतजाम नही हुआ। अस्पताल कुछ दूर था और ऑक्सीजन जरूरी थी। तो रेनू ने माउथ टू माउथ ऑक्सीजन देनी शुरू की, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही ऑटो के अंदर रेनू की गोद में रवि की मौत हो गई।

बेबसी की सबसे बड़ी तस्वीर
कोरोना काल को एक साल से ज्यादा हो गया है, लेकिन रेनू और उसके पति रवि की आज जो तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल है, उससे ज्यादा बेबसी शायद ही किसी ने देखी होगी। रोती, बिलखती और सांसे देती पत्नी की गोद में एक पति का मर जाना… इससे बड़ा दुख उस बेचारी के लिए क्या होगा। वो कोस रही होगी सिस्टम को और खुद को कि वो अपने पति के लिए कुछ नही कर पाई। उसे अपनी आंखों से अपने पति की मौत देखनी पड़ी। इस दौर में मातम हर रोज है और हर रोज हजारों लोग जान गवां रहे हैं। कोई एम्बुलेंस में आखिरी सांस ले रहा है तो किसी को एम्बुलेंस तक नसीब नही हो रही। चिताएं अनवरत जल रही हैं और तमाम लाशें जलने के लिए अपनी बारी के इंतजार में हैं। मौत का दुख सबका एक समान है, लेकिन कुछ दुख बहुत दुखी करते हैं और ताउम्र रुलाते हैं। रेनू आज उसी अनंत दुख का सामना कर रही है।

– सर्वेश तिवारी, CEO dakiyaa. com

--Advertisement--

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here